Naidunia
    Wednesday, April 25, 2018
    PreviousNext

    ' आध्यात्मिकता ही महिला सशक्तिकरण का आधार '

    Published: Tue, 13 Mar 2018 04:07 AM (IST) | Updated: Tue, 13 Mar 2018 04:07 AM (IST)
    By: Editorial Team

    बलौदाबाजार। नईदुनिया न्यूज

    प्रजापिता ब्रम्हाकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय की ओर से महिला दिवस कार्यक्रम का आयोजन 11 मार्च को शाम 4.30 बजे ग्राम सोनपुरी स्थित आश्रम में संपन्ना हुआ। मुख्य संचालिका ब्रम्हाकुमारी नीरा दीदी ने कहा कि आत्मा वास्तव में न तो स्त्री है न पुरुष। हम हर जन्म में शरीर रूपी चोला बदलते हैं, परंतु इस आत्मिक शक्ति को जागृत करने का एकमात्र माध्यम आध्यात्मिकता एवं राजयोग का निरंतर प्रयोग है। आध्यात्मिक उन्नाति से ही समाज की चहुंओर उन्नाति संभव है ।

    मुख्यअतिथि के रूप में पधारे वरिष्ठ शिक्षक तथा समाजसेवी डॉ. प्रभा शुक्ला बहन ने बताया कि जब तक एक महिला, महिला का सम्मान नहीं करेगी तब तक वास्तविक सशक्तिकरण संभव नहीं है। गुरूकुल विद्यालय की संचालिका वंदना तिवारी ने बताया कि आज कोई भी एैसा क्षेत्र नहीं जहां महिलाएं पुरुष से पीछे है। बस निरंतर प्रयास की जरूरत है। अधिवक्ता सुश्री दीपा सोनी बहन ने भी अपने अनुभवों से सबको लाभान्वित किया। कार्यक्रम के अंत मे ब्रम्हाकुमारी नीरा दीदी ने आश्रम की गतिविधियों के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि यहां निःशुल्क सात दिवसीय राजयोग कोर्स कराया जाता है जिसका लाभ कोई भी यहां पर आकर ले सकता है। इस अवसर पर रीटा बाजपेयी, मनीषा शुक्ला, सुधा सोनी, आशा अग्रवाल, कीर्ति शर्मा, सहित बडी संख्या में महिलाएंउपस्थित थी।

    और जानें :  # cg news # balodabazar news
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें