चारामा। नईदुनिया न्यूज

नगर सहित भिरौद महानदी के घाट से लगातार रेत उत्खनन पर विधायक मनोज मंडावी ने रेत खदान में शुक्रवार की रात 11 बजे दबिश देकर खदान में लगे हाइवा वाहनों को जब्त करने के निर्देश पुलिस विभाग को दिए। विधायक मनोज मंडावी खनन स्थल तक पहुंचकर वाहनों के पीट पास की जांच की। जिसके बाद विधायक ने कहा कि क्षेत्र के बाहर के ठेकेदार द्वारा लगातार महानदी से रेत का उत्खनन किया जा रहा है। जबकि सर्वोच्च न्यायलय के नियमानुसार शाम छह बजे से सुबह छह बजे तक खदान बंद होना चाहिए, लेकिन रात्रि में भी लगातार खदान से उत्खनन किया जा रहा है। प्रशासन को बार-बार अवगत कराने के बाद भी कार्रवाई नहीं होने पर विधायक को स्वयं रात्रि में खदान पहुंचना पड़ा है।

भिरौद खदान से नरहरपुर, दुर्ग, भिलाई, धमतरी तक रेत का परिवहन करने से नेशनल हाइवे की सड़क खराब हो चुकी है, जिससे आम जनता परेशान हैं। उन्होंने कहा कि किस अधिकारी के संरक्षण में रात्रि में रेत का खनन मशीनों से किया जा रहा है। चैन माउटेंन मशीन चलाने की अनुमति किसने दी। नेशनल हाइवे सहित चारामा से भिरौद मार्ग, हाराडुला से चारामा मार्ग, आंवरी, गिरहोला मार्ग धूल से भरा हुआ है। आने-जाने वाले व्यक्ति को भारी परेशानी का समान करना पड़ता है। उड़ती धूल के कारण सामने से आ रही गाड़िया ठीक से दिखाई नहीं देती, जिसके कारण लोग दुर्घटना का शिकार हो रहे हैं। इतने बड़े रेत का गोरख धंधा चलने के बाद भी शासन प्रशासन मौन है। अवैध रेत परिवहन होने के बाद भी शासन कोई कार्रवाई नहीं कर रही। पूरे बस्तर से लोहा, कीमती लकड़ी की तस्करी बिना पीट पास के की जा रही है। उन्होंने प्रदेश सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि राज्य सरकार के संरक्षण में लगातर रेत का उत्खनन किया जा रहा है।

धरना-प्रदर्शन की चेतावनी

विधायक ने अवैध रेत उत्खनन को लेकर मंगलवार को थाने के सामने धरना प्रदर्शन करने की चेतावनी दी है। इधर पुलिस विभाग द्वारा जब्त की गई हाइवा वाहनों की जांच के लिए माइनिंग अधिकारी को सूचना दी गई, जिस पर माईनिंग अधिकारी साहू ने जब्त वाहनों के पीट पास की जांच की। उन्होंने ग्रामीणों व सरपंच के बयान के आधार पर उचित कार्रवाई की बात कही है।

----------------------------------