कांकेर। नईदुनिया न्यूज

आज विश्व बाल श्रम दिवस के अवसर पर कलेक्टोरेट भवन में बैठक का आयोजन किय गया, जिसमें बाल श्रमिकों जगह-जगह कबाड़ बीनकर जीवन यापन करने और भीख मांगने वाले बच्चों पर नजर रखकर उन्हें मुख्यधारा में लाने के प्रयासों पर चिंतन किया गया। कलेक्टर टामन सिंह सोनवानी ने महिला व बाल विकास विभाग के अंतर्गत संचालक राजेश सिंह को 14 वर्ष से कम उम्र बच्चों के द्वारा श्रम व भिक्षावृत्ति में लिप्त बच्चों को संरक्षण के संबंध निर्देश दिए। कलेक्टर की अध्यक्षता में जिला बाल संरक्षक अधिकारी पूनम पटेल ने बाल श्रमिक अपशिष्ट संग्राहक व भिक्षावृत्ति में लिप्त बच्चों के पुर्नवास के लिए अभियान चलाए जाने सभी विभाग से लिए समन्वय के साथ अभियान पूरा किया जाएगा। कलेक्टर ने कहा कि बाल श्रमिक, अपशिष्ट संग्राहक व भिक्षवृत्ति में लिप्त बच्चों की दुर्दशा चिन्ता का विषय है। उन्होंने महिला व बाल विकास के अंतर्गत जिला बाल संरक्षण के द्वारा ऐसे बच्चों को चिन्हांकित करे जो बच्चे 14 वर्ष से 18 वर्ष उम्र के हो, श्रम का कार्य कर रहे हो, भिक्षा मांग रहे हो उनकी जानकारी 30 जून तक राज्य बाल संरक्षण समिति संचालनालय महिला व बाल विकास को प्रेषित किया जाए। अभियान के तहत चिन्हांकित बच्चों को बालक कल्याण समिति के माध्यम से उनके पुर्नवास व समाज में एकीकरण किया जाएगा। सभी विभागों के समन्वय से कार्ययोजना बनाने के साथ अभियान चलाया जाएगा जिसमें बालश्रमिक, अपशिष्ट संग्राहक तथा भिक्षा वृत्ति से लिप्त बच्चों के सर्वेक्षण करने अभियान चलाया जाएगा। इस अभियान संकुल व वार्ड स्तर पर नोडल अधिकारी नियुक्त कर अभियान चालाया जाएगा। राज्य स्तर से प्रषित कार्य योजना के आधार पर नोडल अधिकारियों द्वारा ग्राम स्तरीय बाल संरक्षण समितियों, शहरी क्षेत्रों में वार्ड स्तरीय समितियों सर्वेक्षण के लिये प्रशिक्षण दिया जाएगा। सर्वेक्षण कर 15 दिवस के अंदर राज्य स्तरीय, ग्राम स्तरीय व शहरी क्षेत्रों में वार्ड स्तरीय में नोडल अधिकारियों द्वारा प्रपत्र एकत्र महिला व बाल विकास विभाग में जमा कराया जाएगा। सर्वेक्षण के दौरान पाए गए बच्चों को जिला बाल कल्याण समिति के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा, ताकि उनके पुनर्वास किया जा सके। इस दौरान बच्चों के स्वास्थ्य की देखभाल, शाला में प्रवेश तथा उनकी शिक्षा निरंतर रखी जाने के लिए आश्रम की व्यवस्था की जाएगी। जिला बाल संरक्षक समिति के बैठक सीईओ जिपं ऋचा प्रकाश चौधरी, अपर कलेक्टर आरआर चेलक व अन्य विभाग के अधिकारी मौजूद थे।

--