कांकेर। नईदुनिया प्रतिनिधि

विश्व बालश्रम निषेध दिवस पर बाल श्रम, अपशिष्ट संग्राहक व बाल भिक्षावृत्ति पर रोक लगाने के लिए रेस्क्यू टीम ने मंगलवार को शहर में कई जगहों पर छापामार कार्रवाई की। इस दौरान कुछ जगहों पर टीम को नाबालिग कार्य करते हुए मिले। टीम ने इस संबंध में नियोक्ताओं को आवश्यक निर्देश दिए और नाबालिगों को बाल कल्याण समिति के समक्ष प्रस्तुत किए जाने के निर्देश भी दिए हैं।

विश्व बाल श्रम निषेध दिवस पर राज्य शासन महिला एवं बाल विकास विभाग के आदेश पर बाल श्रम, अपशिष्ट संग्राहक व बाल भिक्षावृत्ति पर रोक लगाने के लिए जिले में विशेष अभियान चलाया जा रहा है, जिसमें विभिन्न संस्थाओं में जाकर रेस्क्यू टीम ने जांच की। मंगलवार को भी टीम ने कई संस्थाओं ने जांच की। जिला बाल संरक्षण अधिकारी रीना लारिया ने बताया कि बस स्टैंड के पीछे डेरे में नाबालिग मिले, जिनके पालकों को बच्चों से भिक्षावृत्ति न कराए जाने की हिदायत दी गई। साथ ही पीजी कॉलेज के पास साहू बोरवेल्स में बालाघाट जिले का पंद्रह वर्षीय बच्चा कार्य करते हुए पाया गया है, जिसे कल सीडब्ल्यूसी के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा। इसी प्रकार सुमित बाजार में 18 वर्ष से कम आयु की तीन लड़कियां व एक लड़का कार्य करते मिले। किशोर न्याय अधिनियम के तहत उनकी सुरक्षा की व्यवस्था के संबंध में पूछताछ की गई। साथ ही इन किशोरों को भी सीडब्ल्यूसी के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा। जहां देखरेख संरक्षण के अंतर्गत आने पर उनका पुनर्वास किया जाएगा। साथ ही रीना लारिया ने बताया कि विशेष अभियान चलाया जा रहा है, जो लगातार जारी रहेगा। यदि किसी संस्था में 14 वर्ष से कम आयु व नाबालिग बच्चा कार्य करते हुए पाया जाता है, तो नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। कार्रवाई के लिए अलग-अलग टीमें बनाई गई हैं, जो बधाो का चिन्हांकन करेंगी। ऐसे स्थानों का भी चिन्हांकन करेगी जहां बच्चों से बाल श्रम लिया जाता है। इस दौरान श्रम कल्याण अधिकारी जयप्रकाश चौहान, विधि सह परविक्षा अधिकारी अशोक कौशिक, विनोद नाग मौजूद थे।

बाक्स

भिक्षावृत्ति कराने वालों पर नजर

विश्व बालश्रम निषेध दिवस पर चलाए जा रहे अभियान में नाबालिगों से भिक्षावृत्ति कराने वालों पर भी टीम की नजर बनी रहेगी। जिला बाल संरक्षण अधिकारी रीना लारिया ने बताया कि बच्चों से भिक्षावृत्ति कराना अपराध की श्रेणी में आता है। ऐसा करते पाए जाने पर दोषी व्यक्ति के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

----