कवर्धा। नईदुनिया न्यूज

जिले के रक्षित केंद्र में 17 मई को पुलिस अधीक्षक डॉ. लाल उमेंद सिंह द्वारा जनरल परेड का निरीक्षण किया गया। पुलिस अधीक्षक ने सर्वप्रथम न्यू पुलिस लाइन में निरीक्षण परेड की सलामी ली गई। इसके बाद परेड में उपस्थित सभी जवानों द्वारा सलामी दी गई। सलामी के बाद परेड लाइन का निरीक्षण कर बेस्ट टर्न आउट व बेस्ट परेड मार्च करने वाले अधिकारी-कर्मचारी को उचित पुरस्कार से पुरस्कृत किया गया।

साथ ही अधिकारियों द्वारा स्क्वायड ड्रील करवाकर देखा गया। परेड मार्च में लगभग 200 से अधिक अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित रहे। पुलिस अधीक्षक द्वारा वाहन शाखा में वाहनों का बारिकी से निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के बाद जिला पुलिस कबीरधाम के सभी पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों का दरबार लगाया गया, दरबार में उपस्थित अधिकारियों-कर्मचारियों को संबोधित करते हुए पुलिस अधीक्षक ने अपने कार्यो की दक्षता में वृद्घि करें व कर्तव्यों के निर्वहन के साथ नवीन कानूनी जानकारी से अद्यतन रहे। वर्तमान में क्या विशेष चल रहा है इसकी जानकारी रखें। प्रतिदिन के कार्यो के साथ अपने आपको व्यायाम व योगा जैसे शारीरिक अभ्यास से जोड़कर रखे व अपने आपको सभी प्रकार के बुराइयों से दूर रखे। साथ ही यह जानकारी दिया गया कि जिले में उत्कृष्ट कार्य करने वाले अधिकारी-कर्मचारी को पुलिस अधीक्षक द्वारा इंद्रधनुष योजना के तहत सम्मानित किया जाएगा। किसी भी कर्मचारी को गुजारिश के लिए सप्ताह में दो दिन मंगलवार और शुक्रवार जनरल परेड के बाद पुलिस अक्षीक्षक के समक्ष दरबार में अपनी गुजारिश रख सकेंगे।

इसके बाद न्यू पुलिस लाइन में कम्प्यूटर प्रशिक्षण क्लास का शुभारंभ पुलिस अधीक्षक द्वारा किया गया। जिसमें 25 महिला पुलिस कर्मचारियों को 15 दिवस के लिए कम्प्यूटर का प्रशिक्षण प्रारंभ किया गया। यह सिलसिला क्रमवार जिले के सभी थाना/चौकी के सभी कर्मचारियों को 15-15 दिवस के लिए रक्षित केंद्र कबीरधाम में कम्प्यूटर का प्रशिक्षण दिया जाएगा। इस अवसर पर उपस्थित अधिकारी-कर्मचारी को पुलिस अधीक्षक द्वारा जानकारी दिया गया कि जिले के अधिकारी जवानों को हाइटेक बनाने के लिए कम्प्यूटर चलाना सिखाया जाएगा। ताकि जिले में हो रहे ऑनलाइन ठगी, साइबर संबंधी अपराध के लिए थाने में तैनात महिला-पुरूष कर्मचारियों को प्रशिक्षण देकर हाइटेक बनाया जाएगा। इसके लिए सभी थाना/चौकी प्रभारियों की सूची कार्यालय में प्रस्तुत करने निर्देशित किया गया। जिससे सभी अधिकारी-कर्मचारियों में खुशी व हर्ष का माहौल रहा। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक डॉ. लाल उमेंद सिंह व रक्षित निरीक्षक नरगिस तिग्गा बघेल और जिले के थाना-चौकी प्रभारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।