कोरबा (प्रदीप बरमैया)। जिले की चारों विधानसभा से राजनीतिक पार्टियों की 11 महिला नेत्रियों ने टिकट की दावेदारी की, पर किसी को टिकट नहीं मिल सकी। पाली-तानाखार की एक महिला नेत्री ने बगावत कर निर्दलीय नामांकन दाखिल कर दिया है। कटघोरा से भी एक कांग्रेस की महिला नेत्री के भी बगावती सुर छेड़ नामांकन फॉर्म खरीद लिया है। साठ साल पहले छुरी राजघराने से एक महिला विधायक रही, उसके बाद से अब तक जिले को महिला नेतृत्व नहीं मिला।

कांग्रेस हो या भाजपा, राजनीति में महिलाओं की बराबर की भागीदारी की दलील देते रहे हैं, पर कथनी और करनी में अंतर एक बार फिर नजर आया। जिले के मतदाताओं के समीकरण की बात करें तो कुल 816350 मतदाता हैं। इसमें पुरुष 409836 व 406514 महिला मतदाता हैं। केवल 3322 पुरुष मतदाता अधिक हैं, यानी लगभग आधे-आधे की स्थिति है। वर्ष 1962 में पाली-तानाखार के आरक्षित सीट से यज्ञसेनी देवी पहली बार महिला विधायक बनी। वह छुरी राजघराने की अंतिम जमींदार की धर्मपत्नी थी।

60 साल गुजर गए, इसके बाद से अब तक जिले को महिला नेतृत्व नहीं मिल सका है। ऐसा नहीं है कि महिला नेतृत्व की कोई कमी हो, काबिल महिलाएं कांग्रेस एवं भाजपा में बखूबी अपना दायित्व निभा रही। पिछली बार महापौर चुनाव में कांग्रेस ने नेत्री उषा तिवारी को दरकिनार कर दिया और उन्हें बगावत कर मैदान में उतरना पड़ा। अपने दम पर 22 हजार से ज्यादा वोट हासिल कर अपना वजूद साबित किया। शायद यही वजह है कि कांग्रेस के सामने उसे वापस लेने की मजबूरी बनी।

बात इस बार की चुनाव की करें तो भाजपा से महिला मोर्चा की महामंत्री संजूदेवी राजपूत कोरबा विधानसभा से अपनी मजबूत दावेदारी की, लेकिन पार्टी ने उसे हाशिए में डाल दिया। कटघोरा में कांग्रेस की जिला पंचायत सदस्य मीरा कंवर और पूर्व जिला पंचायत सदस्य रीना अजय जायसवाल भी टिकट की दावेदारों में शामिल रही। आलम यह था कि न तो पेनल में इनका नाम गया और न ही कभी इनके नाम पर विचार किया गया। पुरुषों के नामों की ही अटकलें लगती रही और अंत में बोधराम कंवर के पुत्र पुरूषोत्तम को टिकट दे दी गई।

सर्वाधिक दावेदारी रामपुर से

रामपुर विधानसभा से दोनों पार्टी की सर्वाधिक नेत्रियों ने दावेदारी इस बार जताई। इसमें करतला जनपद पंचायत अध्यक्ष धनेश्वरी कंवर, कोरबा जनपद पंचायत अध्यक्ष रेणुका राठिया, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष शकुंतला कंवर, उमरेली सरपंच सुखबाई कंवर तथा कमला राठिया का नाम रहा। उधर पाली-तानाखार से किरण मरकाम, किरण क्रेसेनलिया कुजूर की दावेदारी रही।

चार ने लिया, एक ने भरा नामांकन

नेतृत्व नहीं मिलने पर चार महिला नेत्रियों ने नामांकन फॉर्म लिया है। इनमें पाली-तानाखार से किरण क्रेसेनलिया, कटघोरा से रीना अजय जायसवाल, रामपुर से कमला राठिया तथा शकुंतला कंवर शामिल हैं। सिर्फ पाली-तानाखार से किरण क्रेसेनलिया कुजूर ने ही निर्दलीय होकर फॉर्म जमा किया है, जबकि शेष महिलाओं ने फॉर्म जमा नहीं किया।

विधानसभावार मतदाताओं की स्थिति

विधानसभा महिला पुरुष कुल

कटघोरा 94490 100104 194594

पाली-तानाखार 104976 105920 210896

कोरबा 1,07,193 1,14,434 2,11,628

रामपुर 99855 99377 199232