रायगढ़ । नईदुनिया न्यूज

रायगढ़ के कोसमनारा की तरह बरमकेला विकासखंड के ग्राम देवगांव (सरिया) में पिछले 18 दिनों से एक व्यक्ति ध्यान लगाकर साधना में लीन होने का दावा किया जा रहा है। बताया गया कि उन्होंने पिछले एक पखवाड़ा से किसी भी प्रकार का अन्न ग्रहण नहीं किया है।

ग्राम देवगांव के दक्षिण दिशा में संडा -बोईरडीह पहुंच मार्ग के पास सरिया के करीबी ग्राम कंडोला निवासी शिवराज चौहान पिछले माह 21 अक्टूबर से इस स्थान पर साधना में लीन है । शिवराज को साधना में लीन देखने बड़ी संख्या में लोग यहां पहुंच रहे हैं और श्रद्धानुसार फल-फूल एवं नारियल चढ़ा रहे हैं। शिवराज को ग्राम के कुछ लोगों ने साधनारत देखा तो पहले खास ध्यान नहीं दिया लेकिन जैसे जैसे दिन गुजरते गए उनके प्रति कौतूहल बढ़ता गया। धीरे-धीरे यह बात अन्य लोगों तक पहुंच गई और मौके पर लोगों का भीड लगना शुरू हो गया। साधनारत व्यक्ति की पहचान होने पर परिजनों ने साधना स्थल से थोड़ी दूर टेंट बना लिया और शिवराज की देखरेख करने लगे। शिवराज के करीबी शौकीलाल ने बताया कि बचपन से ही वह भगवान शिव की भक्ति में लीन रहता था। शिवजी की कथा में उनकी विशेष रूचि है।

घर में मां भामा चौहान व पत्नी सहित दो बेटे और एक बेटी है। जिन्हें छोड़कर शिवराज देवगांव की भूमि में साधना के लिए बैठे हैं। वे अपनी जरूरत की सामग्री को लिखकर बताते हैं। पहले कुछ दिनों तक वे फलाहार ले रहे थे लेकिन अब केवल तीन बार में आधा लीटर दूध ही ले रहे हैं।