महासमुंद। नईदुनिया प्रतिनिधि

जिले के मवेशी बाजारों को गोधन तस्करी का अड्डा बताते हुए राष्ट्रीय बजरंग दल के प्रांत मंत्री ओमेश बिसेन ने मवेशी बाजार बंद करने और गो तस्करों पर कार्रवाई करने की मांग की है। इस मुद्दे को लेकर बिसेन सहित कुछ बजरंगी 13 मई से सरायपाली से रायपुर की पदयात्रा पर हैं। तपती दोपहरी और गर्म हवाओं के थपेड़े का सामना करते हुए बजरंगी शुक्रवार को महासमुंद नगर पहुंचे। यहां राष्ट्रीय बजरंग दल के नेताओं-कार्यकर्ताओं ने पदयात्रियों का अभिनंदन किया। बाद पदयात्रा करते हुए बजरंगी कलेक्टोरेट पहुंचे। यहां ज्ञापन लेने के लिए डिप्टी कलेक्टर सीमा ठाकुर पहुंची, जिन्हें मुख्यमंत्री और कलेक्टर के नाम का ज्ञापन सौंपा गया।

बिसेन ने बताया कि सरायपाली और महासमुंद मवेशी बाजार गो तस्करों का बड़ा केंद्र हैं। यहां से गोधन खरीदकर ओडिशा ले जाते हैं, जहां से इसे बंगाल के रास्ते बांग्लादेश भेजा जाता है। इस धंधे में तस्कर सक्रिय हैं। बिसेन ने कहा कि स्थानीय लोगों और कुछ भ्रष्ट सरकारी अमले की मदद से तस्कारों का यह कार्य सफल होता है। उन्होंने यह भी बताया कि ऐसे कार्य में लिप्त तस्कर हथियारों से लैस हैं। उन्होंने कहा कि गोवंश की तस्करी रोकने पर गो सेवकों से मारपीट की जाती है, फर्जी रिपोर्ट दर्ज कराए जाते हैं। साथ ही गो सेवकों को धमकी दी जाती है। ज्ञापन में बजरंगियों ने अपील की है कि मवेशी बाजार बंद किया जाए और तस्करों के विरुद्ध कार्रवाई की जाए। बिसेन ने बताया कि पदयात्रा करते हुए रायपुर पहुंचकर मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौपेंगे।

ज्ञापन सौंपने के दौरान छबि सिन्हा, गुड्डा सिन्हा, योगेश साहू, मयंक शर्मा, फरोज पटेल, शिवम, प्रदीप ठाकुर, रितेश विश्वकर्मा, दिनेश उइके सहित बजरंगी उपस्थित थे।

---