पलारी, बालौद बाजार । बच्चे को दूध पिलाने के मामूली विवाद पर नगर के वार्ड-10 में रहने वाली 24 साल की महिला ने गुरुवार रात घर में फांसी लगा ली। उसकी चार माह की बच्ची है। ग्रामीणों के मुताबिक पति-पत्नी में अक्सर विवाद होता था। प्राप्त जानकारी अनुसार ग्राम हरिनभट्टा निवासी शिक्षक महेंद्र कुर्रे कसडोल ब्लॉक के ग्राम पीपरछेड़ी के शासकीय स्कूल में पदस्थ है।

नगर के वार्ड 10 में उसकी पत्नी नूतन, दूध मुंहे बच्चे और माता-पिता के साथ निवास करता है। उसकी शादी दो साल पूर्व ग्राम गाड़ाभाठा निवासी तिलक सोनवानी की बेटी नूतन के साथ सामाजिक रिवाजों से हुई थी। महेंद्र की दूसरी शादी थी। महेंद्र ने पहली पत्नी की बीमारी के चलते मौत होने के बाद दूसरी शादी की थी।

अक्सर पति और पत्नी के बीच विवाद होता था। गुरुवार की रात्रि शिक्षक पति और मृतका के बीच बच्चे को दूध पिलाने के नाम पर विवाद हुआ। पति महेंद्र रात्रि 10 बजे खाना खाकर बाहर आंगन में सो गया।

रात्रि साढ़े दस बजे बच्चे के रोने की आवाज आई तब शिक्षक पति की नींद खुली और वह अपनी पत्नी नूतन को उठाने गया, परंतु अंदर से दरवाजा बंद कर सोई पत्नी ने दरवाजा नहीं खोला तो उसने खिड़की से झांक कर देखा तो वह पंखे में झूल रही थी।

तत्काल उसने अपने परिजनों को इसकी जानकारी दी और शयन कक्ष का दरवाजा तोड़कर उसे 108 वाहन बुलाकर पलारी के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में ले गया। जहां डाक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। जिसकी सूचना तत्काल पुलिस थाना पलारी को दी गई। दूसरे दिन तहसीलदार हरिशंकर पैकरा और नायब तहसीलदार कुणाल पांडेय ने परिजनों का बयान दर्ज किया फिर लाश का पीएम कर परिजनों को सौंप दिया गया।