नारायणपुर। रामकृष्ण मिशन आश्रम द्वारा एक बार फिर से तेदट पत्रिका का प्रकाशन शुरू कर दिया गया है। यह पत्रिका 25 वर्षों के बाद दोबारा प्रकाशित हो रही है। वसंत पंचमी के दिन सरस्वती पूजा के मौके पर नाराणपुर स्थित विवेकानंद विद्यापीठ की ओर से बहुप्रतीक्षित 'तेदट' पत्रिका का विमोचन स्वामी व्याप्तानन्द जी महाराज, सचिव, रामकृष्ण मिशन आश्रम नारायणपुर के करकमलों द्वारा किया गया। 'तेदट' पत्रिका 1991 में और 1993-94 में प्रकाशित हुई थी। तदुपरांत आज 25 साल बाद इस पत्रिका का पुनः प्रकाशन हुआ है। स्वामी व्याप्तानन्द जी महाराज ेने इसके लिए खुशी जाहिर करते हुए इसका श्रेय विवेकानंद विद्यापीठ के प्राचार्य स्वामी कृष्णामृतानन्द और उनके सहयोगी शिक्षकों को दिया। उन्होंने कहा कि हम इस पत्रिका को प्रकाशन करने के लिए बहुत सालों से कोशिश कर रहे थे, आज वह सम्पन्न हुआ है। 'तेदट' माड़िया भाषा का शब्द है, इसका अर्थ है 'जागरण' या 'जागो'। इस पत्रिका में प्रमुखतः विद्यार्थियों व शिक्षक द्वारा निबंध, कविताओं व लेख का समावेश किया गया है। इसके साथ ही विभिन्न क्षेत्रों में विद्यार्थियों के उत्कृष्ट प्रदर्शन की जानकारी भी दी गई है।