अंबिकापुर । नईदुनिया प्रतिनिधि

शराबी को बचाने के चक्कर में बाइक से गिरकर घायल हुए भाई की जीवनरक्षा के लिए बैगा के सलाह पर बहन, रविवार को मेडिकल कॉलेज के सर्जिकल वार्ड में अगरबत्ती जलाकर मौन मंत्रोच्चार में लीन नजर आई। पूछने पर उसने बताया कि भाई के स्वास्थ्य में सुधार नहीं होने पर परिजन बैगा के पास गए थे, उसने भूत-प्रेत का साया भगाने रोजाना फूल-अगरबत्ती लेकर पूजा-पाठ करने कहा था। इसके बाद इलाज के साथ अज्ञात शक्तियों के साए से दूर रखने की कोशिश होने लगी।

बलरामपुर जिले के डीपाडीह निवासी राजेंद्र पिता किशोर 25 वर्ष बीते बुधवार को बाइक से घर आने के लिए निकला। रास्ते में एक शराबी को बचाने के चक्कर में वह अनियंत्रित होकर बीच सड़क में गिरकर गंभीर रूप से घायल हो गया। युवक को मेडिकल कॉलेज के सर्जिकल वार्ड में भर्ती कराने के बाद भी उसकी स्थिति में सुधार नहीं होने पर परिजन गांव में बैगा के पास गए व राजेंद्र की खराब हालत के बारे में जानकारी दी। बैगा ने प्रेत बाधा के आड़े आने की संभावना व्यक्त करते हुए उसे ऐसी शक्तियों से दूर रखने की तरकीब बताई थी। इसके बाद से घायल युवक की छोटी बहन बैगा द्वारा बताए तरकीब का पालन करने में लगी है। उसे विश्वास है कि ऐसा करने से उसके भाई की हालत में जल्द सुधार होगा।