कटघोरा। नईदुनिया न्यूज

अरदा में कार्यरत हैंडपंप टेक्निशियन ने पीएचई विभाग के स्टोर रूम में फांसी लगाने का प्रयास किया। इस दौरान वहां पदस्थ कर्मचारियों की नजर उस पर पड़ी गई, उन्होंने तत्काल उसे कटघोरा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। टेक्निशियन ने एसडीओ पर प्रताड़ना का आरोप लगाया है।

13 जून की शाम करीब छह बजे कटघोरा के पीएचई कार्यालय के पीछे स्थित कमरे में हैंडपंप टेक्निशियन भुखऊ सिंह कंवर (52)ने आत्महत्या की गरज से गमछे का फंदा बनाकर लटक गया। समय रहते उस पर महमूद नामक कर्मचारी की नजर पड़ गई और आनन-फानन में अन्य कर्मचारियों की मदद से उसे फंदे से नीचे उतारा गया। उस वक्त उसकी सांसे चल रही थी। उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कटघोरा में भर्ती कराया गया है। होश में आने के बाद भुखऊ ने मीडिया के सामने एसडीओ चंद्र कुमार पवार पर मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। उसका कहना है कि कार्य में लापरवाही का आरोप लगाते हुए एसडीओ ने जानबूझकर कारण बताओ नोटिस जारी किया। इसकी जानकारी मिलने पर वह आपा खो बैठा और सुसाइड नोट लिखकर आत्महत्या करने की ठान ली। बताया जा रहा है कि सुसाइड नोट कार्यालय में ही काम करने वाले एक कर्मचारी ने रख ली। उधर इस मामले में एसडीओ श्री पवार का कहना है कि कार्य में भुखऊ लापरवाही बरत रहा था। नशे की अवस्था में कार्यालय आता था, इस वजह से उसे नोटिस जारी किया गया है। बेवजह प्रताड़ित किए जाने का जो आरोप मुझ पर लगाया है, वह अभी जो हरकत किया वह भी नशे की अवस्था में किया। ब्लैकमेलिंग करने की कोशिश की जा रही है।