0.बजट में प्रावधान के बावजूद निर्माण कार्य नहीं हो सका शुरू

0.केन्द्रीय मंत्री विष्णुदेव साय की पहल पर प्रदेश सरकार ने दी स्वीकृति

फोटो 14 जेएसपी 12 : ईब नदी में नाव पर सफर करते ग्रामीण।

जशपुरनगर नईदुनिया प्रतिनिधि। सिंगीबहार,देवरी,कछुआकानी मार्ग पर स्थित पुल विहिन ईब नदी पर इस साल भी लोगों को नाव का सहारा ही लेना पड़ेगा। इस पुल का निर्माण को स्वीकृति देते हुए प्रदेश सरकार ने बजट में शामिल भी कर लिया है। लेकिन निर्माण कार्य अब तक शुरू ना हो पाने की वजह से लोगों में निराशा व्याप्त है।

देवरी कछुआकानी से सिंगीबहार पहुंच मार्ग में स्थित पुल विहिन ईब नदी यहां के लोगों के लिये एक बड़ी समस्या साबित हो रही है। विशेष कर बरसात के मौसम में नदी का जल स्तर बढ़ने से यह सड़क पूरी तरह से शो पीस बनाया जा करता है। पुल ना होने की वजह से संभाग मुख्यालय अंबिकापुर और तहसील मुख्यालय पहुंचने में काफी कठिनाई का सामना करना पड़ता था। दूसरे रास्ते से घूम कर जाने में 20 किलोमीटर की अतिरिक्त दूरी तय करनी पड़ती है । इससे शारीरिक,मानसिक और आर्थिक नुकसान हुआ करता था। इस मार्ग पर पुल निर्माण के लिए 1988 से मांग की जा रही है । केन्द्रीय मंत्री श्री साय के प्रयासों से पुल निर्माण के प्रस्ताव को स्वीकृति देते हुए प्रदेश सरकार ने इसे बजट में भी शामिल कर लिया है। लेकिन अब तक इसका निर्माण कार्य शुरू नहीं हो पाया है। इस पुल के बन जाने से सिंगीबहार, तपकरा, केरसई, लठबोरा, साजबहार, कोहपानी, जबला, बाम्हनमारा, कोहपानी, लठबोरा, ऊपरकछार गांव के ग्रामीणों को अंबिकापुर, कुनकुरी और फरसाबहार पहुंचने में आसानी होगी।

--------------