रायगढ़। वृद्ध पति ने लकड़ी मारकर अपनी पत्नी को गंभीर रूप से घायल कर दिया। परिजन वृद्धा को अस्पताल ले जा रहे थे कि रास्ते में ही दम तोड़ दिया। कोतवाली पुलिस ने मर्ग कायम कर पोस्टमार्टम कराने के बाद शव को उसके परिजनों को सौंप दिया है।

घटना जशपुर जिला के ग्राम काडरो की है। मानसाय नागवंशी पिता सन्नूराम नागवंशी उम्र 35 वर्ष ने बताया कि रविवार की रात घर के सबी लोग खाना खा कर सो रहे थे। घर के सामने वाले कमरे में उसकी मां सो रही थी।

रात्रि करीब 2:30 बजे उसके पिता सन्नूराम नागवंशी पिता मंगलूराम ने घर में रखा बैठने का पीढ़ा उठाकर उसकी मां के सिर पर तीन चार वार कर दिया, जिससे उसकी मां छटपटाने लगी और चीख-पुकार सुनकर घर के लोगों ने बीच-बचाव कर सन्नूराम को एक कमरे में बंद किया।

उसके बाद पीड़िता मनमेत बाई को निजी वाहन से लैलूंगा अस्पताल ले आए, जहां डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद पीड़िता को जिला अस्पताल रेफर कर दिया, जब सुबह करीब 8 बजे पीड़िता के परिजन जिला अस्पताल पहुंचे, तब डॉक्टरों ने प्राथमिक जांच के दौरान ही मनमेत बाई को मृत घोषित कर दिया।

पुलिस ने मृतक के परिजनों का कथन लेकर पंचनामा उपरांत मृतिका के शव का पीएम करा कर अंतिम संस्कार के लिए शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया।