रायपुर। छत्तीसगढ़ पुलिस ने दिल्ली से नाइजीरियन ठगों के एक गिरोह के मास्टर माइंड समेत चार सदस्यों को गिरफ्तार किया है। ये ठग फेसबुक पर महिलाओं से पहले दोस्ती करते थे, फिर चैटिंग शुरू कर उनकी फोटो या वीडियो क्लिप प्राप्त कर लेते थे। फोटो व वीडियो क्लिप से छेड़छाड़ कर उसे अश्लील बनाने के बाद महिलाओं को ब्लैकमेल करते थे। ठगों के झांसे में आई रायपुर की एक महिला से विभिन्न खातों में 7 लाख रुपये जमा कराए थे।

एसएसपी अमरेश मिश्रा ने बुधवार को नाइजीरियन गिरोह का पर्दाफाश करते हुए बताया कि छत्तीसगढ़ क्राइम ब्रांच की टीम ने दिल्ली में दस दिन कैंप कर टोह लेने के बाद मंगलवार को संतगढ़ तिलकनगर में छापा मारा। मौके पर नाइजीरियन ठगों का कमांड रूम संचालित होता पाया गया। यहां से गैंग के मास्टर माइंड कैनिथ उसिटा डिमा (29), चिबुजोर शमूएल (28), औस्टिन उर्फ एंटी (30) व बोली बिसेल(30) को गिरफ्तार किया गया।

पूछताछ में इन्होंने स्वीकार किया कि दो महीनेे पहले यूके का नागरिक बनकर रायपुर की एक उम्रदराज महिला से फेसबुक पर दोस्ती की, फिर उसे डॉलर देने का लालच दिया। इसके बाद दोस्ती होने पर महिला की फोटो व वीडियो हासिल करके उसके चेहरे को टैंपरिंग कर अश्लील क्लिप तैयार कर लिया। अश्लील क्लिप को सोशल मीडिया में अपलोड करके बदनाम करने की धमकी देकर सात लाख रुपये वसूल लिए थे।

गैंग के मास्टर माइंड ने यह स्वीकार किया कि वह दिल्ली-एनसीआर, मुंबई, गुजरात, उत्तराखंड समेत विभिन्न राज्यों में उम्रदराज महिलाओं को निशाना बना चुके हैं। पुलिस ने इनके कब्जे से 10 लैपटॉप, 20 मोबाइल, तीन पासपोर्ट व 20700 रुपये जब्त किए हैं। मोबाइल फोन व लैपटॉप की जांच की जा रही है। इसके जरिये और मामले खुलने की उम्मीद है।