रायपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

बेस्ट लोकेशन, अत्याधुनिक सुविधाएं और लुभावने ऑफरों के नाम पर लुभाने वालों में रायपुर के बिल्डर आगे हैं। उपभोक्ताओं के हितों का पालन करने के लिए बनाए गए रेरा प्राधिकरण में आईं 147 शिकायतों में से 50 फीसद से ज्यादा संख्या में रायपुर के बिल्डर हैं। बताया जा रहा है कि इन बिल्डरों पर ग्राहकों को लुभावना ऑफर देकर, आकर्षक गिफ्टस व सुविधाओं के नाम पर ठगने की शिकायतें हैं। रेरा प्राधिकरण भी अब तक इन सभी शिकायतों का निराकरण भी कर चुका है। जानकारी के अनुसार अभी तक रेरा में 904 प्रोजेक्ट, 583 प्रमोटर्स तथा 332 एजेंट्स का पंजीयन हो चुका है। प्राधिकरण का कहना है कि अब ग्राहकों के साथ ही बिल्डरों में भी रेरा के प्रति जागरूकता आ गई है। बड़ी तेजी के साथ ही रेरा में पंजीयन होता जा रहा है। रजिस्ट्रार अजय अग्रवाल का कहना है कि उपभोक्ताओं को लुभावने ऑफर के साथ किसी भी प्रकार से ठगने वाली कंपनियों को किसी भी हालत में बख्शा नहीं जाएगा। अभी तक पंजीयन न कराने वाले रियल इस्टेट कंपनियों पर कार्रवाई भी होगी।

एक ही ब्रोशर रखेंगे बिल्डर और ऑनलाइन दे रहे जानकारी

रेरा प्राधिकरण के नियमों के अनुसार इन दिनों बिल्डर ग्राहकों के लिए एक ही ब्रोशर का उपयोग कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि एक से अधिक ब्रोशर रखने पर रेरा के पास लगातार शिकायतों भी आ रही थीं कि उन्हें ब्रोशर के नाम पर भ्रमित किया जाता है। इसे देखते हुए ही बिल्डरों द्वारा इन दिनों एक ही ब्रोशर का उपयोग किया जा रहा है तथा अपने प्रोजेक्ट के संबंध में पूरी जानकारी ऑनलाइन उपलब्ध भी करा रहे है। रेरा प्राधिकरण का कहना है कि ग्राहकों को प्रॉपर्टी खरीदते वक्त इस बात का ध्यान रखना होगा कि बिल्डर का प्रोजेक्ट रेरा में पंजीकृत हो।

नए प्रोजेक्टों से बनाई दूरी

रेरा की सख्ती को देखते हुए इन दिनों बिल्डरों ने पूरी तरह से नए प्रोजेक्टों से दूरी बना रखी है। साथ ही वे अपना पुराना प्रोजेक्ट जल्द से जल्द बेचने में लगे हुए हैं तथा ग्राहकों को लुभाने आकर्षक ऑफर भी दे रहे हैं।