रायपुर। पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के दामाद एवं दाऊ कल्याण सिंह (डीकेएस) सुपरस्पेशलिटी हॉस्पिटल के पूर्व अधीक्षक डॉ. पुनीत गुप्ता के विरुद्ध एक और एफआइआर दर्ज हो गई।

डीकेएस अधीक्षक डॉ. केके सहारे ने राज्य शासन के आदेश पर गोलबाजार थाना में गड़बड़ियों की जांच रिपोर्ट के साथ लिखित शिकायत की। इस पर पुलिस ने अपराध दर्ज कर लिया। अब पुलिस कानूनी पहलुओं की जांच करेगी।

आरोप है कि अधीक्षक रहते हुए डॉ. गुप्ता ने स्टाफ की भर्ती, उपकरणों की खरीद व आउटसोर्सिंग में भारी गड़बड़ियां की। चहेतों को लाभ पहुंचाया। यह मामला उच्च स्तरीय कमेटी की जांच रिपोर्ट में सामने आया। इसके बाद उनके खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया गया है।

सूत्रों की मानें तो डॉ. गुप्ता पर अब शिकंजा कस गया है। जो दस्तावेज जांच कमेटी के हाथ लगे हैं उनमें भले ही तत्कालीन मंत्री, तत्कालीन स्वास्थ्य विभाग के शीर्ष अफसरों का अनुमोदन हो, लेकिन गाज तो डॉ. गुप्ता पर ही गिरेगी। क्योंकि खरीद, नियुक्तियां उन्होंने अपने स्तर पर की।

एडिशनल एसपी प्रफुल्ल ठाकुर का कहना है कि जल्द जांच शुरू की जाएगी। बता दें कि डॉ. गुप्ता पर अंतागढ़ टेपकांड में भी एफआइआर दर्ज कराई गई है।