रायपुर। छत्तीसगढ़ के कर्ज में डूबे होने के लिए किसकी सरकार जिम्मेदार है, इस पर बहस करने के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पूर्व मुख्यमंत्री व भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. रमन सिंह को चुनौती दी है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि वे इस विषय पर बहस करने के लिए किसी भी मंच पर आने को तैयार हैं। पूर्ववर्ती भाजपा सरकार में मुख्यमंत्री रहे डॉ. सिंह ने कहा है कि कांग्रेस सरकार के वित्तीय कुप्रबंधन के कारण छत्तीसगढ़ का खजाना खाली हो गया है।

प्रदेश कर्ज हजारों करोड़ के कर्ज में डूब चुका है। इस पर मुख्यमंत्री बघेल ने कहा है कि रमन ने एक बार फिर झूठ बोला है। प्रदेश में भाजपा की 15 साल सरकार रही। अभी कांग्रेस को सत्ता मिली, तो साथ में 50 हजार करोड़ के कर्ज का बोझ भी मिला। यह कर्ज पूर्ववर्ती भाजपा सरकार ने लिया था।

बघेल का कहना है कि ऐसे निर्माण कार्यों के लिए कर्ज लिए गए, जिनकी जरुरत ही नहीं थी। कांग्रेस सरकार ने किसानों का कर्जमाफ किया, तो रमन सिंह और भाजपा के पेट में दर्द हो रहा है। किसानों को धान का मूल्य 25 सौ स्र्पये प्रति क्विंटल दिया जा रहा है, तो उनके पेट में दर्द हो रहा है।