रायपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। लोक सुराज 2017 में 10 जून को सीएम डॉ. रमन सिंह अपने गृह जिले कबीरधाम के पंडरिया में थे। सीएम ने अफसरों को वहां के 30 परिवारों को दो दिन के भीतर उज्ज्वला योजना में गैस कनेक्शन देने की घोषणा की। साथ ही महीनेभर में 60 परिवारों को देने का ऐलान किया।

लोक सुराज की वेबसाइट के अनुसार 271 दिन बाद भी खाद्य विभाग सीएम की इस घोषणा को अमली जामा नहीं पहना पाया है। अपने गृह जिले में सीएम ने कुल 20 घोषणाएं और 5 निर्देश जारी किए थे। इनमें से क्रमशः 9 और 4 के जमीनी हकीकत बनने का लोग इंतजार कर रहे हैं।

राज्य में 12 जनवरी से लोक सुराज 2018 शुरू हुआ है। पहले ही दिन राज्य के कई हिस्सों में सुराज दल को बंधक बनाए जाने की खबरें आईं। ज्यादातर स्थानों पर पुराने आवेदनों का निपटारा नहीं होने के कारण सुराज दल को लोगों के आक्रोश का समाना करना पड़ा। इस पर 'नईदुनिया' ने लोक सुराज की आधिकारिक वेबसाइट के जरिए इसकी पड़ताल की, तो खुलासा हुआ कि मुख्यमंत्री की घोषणाओं और निर्देशों के पालन में ही सरकारी अमल विफल रहा है। सीएम ने पिछले सुराज में 240 घोषणाएं और 186 निर्देश जारी किए इनमें से 74 घोषणाएं और 56 निर्देशों पर अब तक अमल नहीं हुआ है।

कोंडागांव में चार निर्देश, एक भी नहीं हुई पूरी

नक्सल प्रभावित कोंडागांव में मुख्यमंत्री ने चार निर्देश दिए। इनमें सामुदायिक भवन के लिए 5-5 लाख देने, नलकूप खनन, किसानों के लिए 10 कुआं खोदने और मरनेगा के तहत सड़क निर्माण शामिल हैं। इनमें से एक भी निर्देश पर अब तक कार्रवाई नहीं हुई है।

लोक सुराज 2017

दो दिन में प्राप्त कुल आवेदन- 2861413

ऑन लाइन- 8197

शहरी क्षेत्र- 261242

ग्रामीण क्षेत्र- 2591974

लोक सुराज 2017 में सीएम

घोषणाएं निर्देश

कुल 240 186

अमल 166 130

अधुरी 74 56

कबीरधाम में अब तक सबसे ज्यादा आवेदन

इस बार 12 जनवरी 2018 से शुरू हुए लोकसुराज में दो दिन में एक लाख 24 हजार आवेदन प्राप्त हुए हैं। इनमें सबसे ज्यादा 21991 आवेदन अकेले कवर्धा में मिले हैं। वहीं राजनांदगांव में 13444, गरियाबंद में 13091 और बलौदाबाजार में 12839 आवेदन शामिल हैं।

लोक सुराज 2018

दो दिन में प्राप्त कुल आवेदन- 124086

ऑन लाइन- 4696

शहरी क्षेत्र- 8335

ग्रामीण क्षेत्र- 111055