रायपुर। छत्तीसगढ़ से इलाहाबाद कुंभ जाने वाले वाले यात्रियों के लिए रेलवे ने सौगात दी है। प्रदेश भर से कुंभ स्नान करने के लिए इलाहाबाद (छिवकी) जाने वाले श्रद्धालुओं को इससे काफी राहत मिलेगी। इसके साथ ही श्रद्धालुओं को कुंभ जाने के लिए महंगे दामों पर टिकट नहीं खरीदना पड़ेगा, क्योंकि रेलवे प्रशासन श्रद्घालुओं की सुविधा के लिए दुर्ग से इलाहाबाद (छिवकी) और (छिवकी) इलाहाबाद से दुर्ग के लिए साप्ताहिक कुंभ स्पेशल ट्रेन चलाने का एलान किया है।

कुंभ स्पेशल ट्रेन दुर्ग रेलवे स्टेशन से इलाहाबाद (छिवकी) 12 जनवरी से दो मार्च तथा इलाहाबाद (छिवकी) से दुर्ग के लिए 13 जनवरी से तीन मार्च तक चलेगी। इस दौरान दोनों ट्रेनें कुल सात फेरे लगाएंगी। रेलवे के अधिकारी का कहना है कि रेलवे यात्रियों की सुविधाओं को देखते हुए समय-समय पर साप्ताहिक ट्रेन चलाता रहता है।

ज्ञात हो कि छत्तीसगढ़ से इलाहाबाद के लिए वर्तमान में तीन ट्रेन जिनमें सारनाथ एक्सप्रेस, गोदिंया बरौनी और नवतनवा एक्सप्रेस वर्तमान में संचालित की जा रही है। ट्रेनों की संख्या कम होने की वजह से अक्सर सभी ट्रेन पैक रहती हैं। यात्रियों को टिकट के लिए एक माह पहले से ही मशक्कत करनर पड़ती है।

इलाहाबाद में इस वर्ष कुंभ मेले का आगाज हुआ है। कुंभ मेले में पूरी दुनिया से श्रद्धालु पहुंचते हैं, इसलिए श्रद्धालुओं को किसी प्रकार की दिक्कत न हो, इसके लिए रेलवे ने साप्ताहिक ट्रेन चलाने का निर्णय लिया है।

दुर्ग से इतने बजे छुटेगी ट्रेन

सप्ताहिक ट्रेन दुर्ग रेलवे स्टेशन से 21.30 बजे, 22.15 बजे रायपुर, 23.20 बजे भांटापारा, 00.40 बजे उसलापुर, 2.42 पर पेंड्रा रोड, 04.02 सहडौल, 06.45 कटनी, 07.34 मैहर, 8.20 सतना, 10.35 मानिकपुर से चलकर 13 बजे छिवकी रेलवे स्टेशन पहुंचेगी। वहीं इलाहाबाद (छिवकी) रेलवे स्टेशन 18.15, बजे 23.12 को मानिकपुर, 00.40 सतना, 01.12 बजे मैहर, 02.35 बजे कटनी, 5.20 बजे सहडौल, 07.00 बजे पेंड्रा रोड़, 10.10 बजे उसलापुर, 10.56 बजे भांटापारा और 12.15 बजे रायपुर और 13.10 बजे दुर्ग रेलवे स्टेशन पहुंचेगी।

कुंभ मेले के लिए 800 स्पेशल ट्रेन

प्रयागराज में होने वाले कुंभ मेले के लिए रेलवे ने श्रद्धालुओं के लिए कई खास सुविधाएं देने की घोषणा की है। कुंभ मेले को ध्यान में रखते हुए रेलवे ने देश को कोने-कोने से तकरीबन 800 स्पेशल ट्रेन चलाने का निर्णय लिया है, जिससे कुंभ मेला आने वाले श्रद्धालूओं को किसी प्रकार की दिक्कत न हो।

ट्रेन चलने से श्रद्धालु नहीं खरीदेंगे महंगे टिकट

कुंभ मेले में बड़ी संख्या में श्रद्धालु देश-विदेश से पहुंचते हैं। ऐसे में ज्यादातर ट्रेन पैक हो जाती हैं। ट्रेन पैक होते ही टिकट दलाल तेजी से सक्रिय हो जाते हैं। टिकट दलाल यात्रियों से दुगने दाम पर टिकट बेचते हैं। मजबूरी में यात्री दलालों से टिकट लेकर यात्रा करते हैं, लेकिन पर्याप्त ट्रेने होने की वजह से श्रद्धालुओं को टिकट के लिए दलालों का चक्कर नहीं काटना पड़ेगा।