रायपुर। बहुजन समाज पार्टी व जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ की बिलासपुर में शनिवार को होने वाली संयुक्त रैली कई मायने में महत्वपूर्ण होगी। विधानसभा चुनाव में अपनी मजबूत उपस्थिति दर्ज कराने के लिए दोनों ही दलों ने रैली में पांच लाख लोगों की भीड़ जुटाने का लक्ष्य रखा है। मायावती इस रैली के माध्यम से अपनी पार्टी को वोट कटवा के लेबल से जहां मुक्त करना चाहती हैं वहीं अजीत जोगी अपने उपर लगे भाजपा की बी-टीम होने का धब्बा साफ करना चाहते हैं।

भीड़ जुटाने हर नेता को टॉरगेट

बिलासपुर में रैली में गठबंधन ने पांच लाख की भीड़ जुटाने का लक्ष्य निर्धारित किया है। यदि भीड़ लक्ष्य की आधी भी जुटी तो दोनों ही दल अपनी स्थिति सुदृढ़ करने की दिशा में एक-एक कदम आगे बढ़ जाएंगे। रैली के लिए जकांछ व बसपा दोनों ही दलों ने अपनी रणनीति बनाई है। भीड़ के बूथ से चल रैली स्थल पर पहुंचने और फिर वहां से अपने बूथ तक ले जाने के लिए विधिवत ब्लू प्रिंट तैयार किया गया है।

प्रत्येक दस कार्यकर्ता पर एक नेता को जिम्मेदारी सौंपी गई है। कहीं-कहीं जिम्मेदारी गठबंधन को है तो कहीं-कहीं दोनों ही पार्टियों के स्थानीय नेताओं को अलग-अलग जिम्मेदारी दी गई है। माया की रैली से पहले सब व्यवस्थित हो जाए इसके लिए कार्यकर्ताओं को 11 बजे पहुंचने को कहा गया है जबकि मायावती का आगमन एक बजे निर्धारित है। मायावती व अजीत जोगी के लिए यह रैली काफी अहम है क्योंकि गठबंधन कर दोनों दलों ने यह बताने का प्रयास तो किया है कि हम अब यहां तीसरी ताकत हैं।

पंडाल, बैरेकेडिंग व माइक लखनऊ से

बिलासपुर रैली के लिए पंडाल, बैरेकेडिंग व माइक लखनऊ से मंगाया गया है। मायावती की रैली में वैसे भी लखनऊ से ही साउंड सिस्टम आता है। इधर कार्यक्रम स्थल के लिए माइक व कुर्सी न मिलने को भी राजनीतिक हथियार के रुप में इस्तेमाल किया जा रहा है। अजीत जोगी ने कहा कि भाजपा गठबंधन की रैली से इतना खौफ में है कि बिलासपुर के सारे टेंट को दवाब में लेकर बुक कर लिया है। वहीं भाजपा का कहना है कि जिस दल को टेंट व माइक नहीं मिल रहा है उससे क्या उम्मीद की जाएगी।

कार्यक्रम स्थल के चारों ओर लगेगा एलइडी स्क्रीन

मायावती की रैली में भीड़ को नियंत्रित करने के लिए आयोजकों ने कार्यक्रम स्थल के चारों ओर एलइडी स्क्रीन लगाने का निर्णय लिया है जिससे जो लोग मैदान में न पहुंच पाएं वे भी मायावती व अजीत जोगी को सुन सकें।

चार्टर्ड प्लेन से रायपुर आएंगी मायावती

बसपा सुप्रीमो मायावती बिलासपुर रैली को संबोधित करने के लिए दिल्ली से रायपुर एयरपोर्ट चार्टर्ड प्लेन से पहुंचेंगी और एयरपोर्ट से हेलीकॉप्टर से बिलासपुर पहुंचेंगी।