रायपुर। इस साल शिक्षा का अधिकार अधिनियम (आरटीई) के तहत दाखिले की अर्जियां सीट के मुकाबले करीब 12 हजार अधिक हैं। प्रदेश में 86 हजार 508 सीटों के मुकाबले इस बार 97 हजार 930 आवेदन आए हैं। स्कूल शिक्षा विभाग ने अब इन आावेदनों के परीक्षण का आदेश जारी कर दिया है। 16 से 25 अप्रैल तक आवेदनों का परीक्षण किया जाएगा।

इसके बाद 26 से 30 अप्रैल तक संशोधित सूची जारी कर दी जाएगी। जो अभ्यर्थी इसके लिए पात्र होंगे, दो मई को ऑनलाइन लॉटरी निकाली जाएगी। आवंटन उपरांत छात्र-छात्राओं को तीन मई से 20 जून तक दाखिला दिया जाएगा।

रायपुर में सबसे अधिक आए आवेदन

रायपुर में इस बार भी दाखिले की अर्जी सबसे अधिक आई है। रायपुर में नौ हजार 84 सीटों के मुकाबले 14 हजार 205 आवेदन आए हैं। आवेदन करने का आखिरी मौका 15 अप्रैल तक था। गौरतलब है कि आरटीई के तहत सरकार बच्चों का दाखिला निजी स्कूलों के 25 प्रतिशत सीटों पर कराकर उनके शिक्षण का स्वयं शुल्क देती है। इसके अलावा यूनिफार्म के लिए 400 रुपये और किताबों के लिए 250 रुपये देने का प्रावधान है।

आज से नोडल अधिकारी करेंगे परीक्षण

शेड्यूल के मुताबिक 16 अप्रैल से सभी नोडल अधिकारी आवेदनों का परीक्षण करना शुरू कर देंगे। पालकों को निर्धारित दस्तावेजों के साथ उपस्थिति देना अनिवार्य है। बच्चों की उम्र तीन से छह साल निर्धारित की गई है। नर्सरी के लिए तीन से चार साल निर्धारित किया गया है।

निजी स्कूलों में दाखिले के लिए वे बच्चे पात्र होंगे, जिनके पालक बीपीएल कार्डधारी, एससी, एससटी, मानसिक या शारीरिक दिव्यांग, एचआइवी पीड़ित, अनाथ व अन्य वंचित हैं। राज्य में 46 लाख बीपीएल कार्डधारी परिवार हैं। 40 प्रतिशत मानसिक दिव्यांगों को सरकारी या निजी अस्पताल से जारी प्रमाण पत्र देना पड़ेगा।

माता-पिता से हस्ताक्षरित जन्म प्रमाण पत्र भी होगा मान्य

स्कूल शिक्षा विभाग की गाइड लाइन के हिसाब से जन्म प्रमाण पत्र में आंगनबाड़ी कार्ड, एएनएम पंजीकृत कार्ड, स्व प्रमाणित पत्र, माता-पिता या अभिभावकों द्वारा हस्ताक्षरित जन्मतिथि भी मान्य किया जाएगा।

पहचान के लिए यह प्रमाण पत्र

पहचान के लिए आधार कार्ड, मतदाता परिचय पत्र, चालक लाइसेंस, किसान फोटो पासबुक, राशन पत्रिका, पीडीएस फोटो कार्ड, फोटो बैंक एटीएम कार्ड, पैन कार्ड, मनरेगा जॉब कार्ड, पासपोर्ट आदि । पता प्रमाण पत्र: पता के लिए आधार कार्ड, राशन कार्ड, बैंक स्टेटमेंट या पासबुक, वोटर आइडी कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, गैस कनेक्शनधारी आदि दे सकते हैं।

नारायणपुर में सबसे कम 120 आवेदन

आरटीई के तहत नाराययपुर में सबसे कम 120 आवेदन आए हैं, जबकि रायपुर में सबसे अधिक 14 हजार 205 आवेदन आए हैं। इसी तरह दूसरे जिलों कोरिया 3050 , सरगुजा 2751, जशपुर 2065, रायगढ़ 4793, कोरबा 7160, जांजगीरचांपा 6171, बिलासपुर 8803 , कवर्धा 2410, राजनांदगांव 5857, दुर्ग 8172, महासमुंद 2738, धमतरी 3265, कांकेर 1622, बस्तर 2676, दंतेवाड़ा 219, सूरजपुर 3294, बलरामपुर 1598, कोण्डागांव 1468, बालोद 1555, बेमेतरा 2090, गरियाबंद 1454, बलौदाबाजार 4603, मुंगेली 2921 और सक्ती 2312 आवेदन आए हैं।