रायपुर। बस्तर के नगरनार में निर्माणाधीन एनएमडीसी स्टील प्लांट का शुभारंभ इस साल नहीं हो पाएगा। एनएमडीसी के अधिकारियों की मानें तो अगले साल यानी 2019 में मार्च में यह प्लांट शुरू हो सकता है। नगरनार स्टील प्लांट का काम पहले ही 28 महीने से ज्यादा पिछड़ चुका है।

इस प्लांट को इस साल नवंबर में शुरू हो जाना था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जांगला प्रवास के दौरान नगरनार स्टील प्लांट को बस्तर के विकास का प्रतीक बताया था और उम्मीद जताई थी कि इसी साल प्लांट शुरू हो जाएगा। प्रधानमंत्री के आह्वान के बाद प्लांट के निर्माण में तेजी आई है लेकिन अभी काफी काम बचा हुआ है। अधिकारियों को उम्मीद है कि मार्च के पहले हफ्ते में प्लांट शुरू हो जाएगा।

बस्तर के नगरनार में एनएमडीसी 3 मिलियन टन का स्टील प्लांट लगा रही है। इस प्लांट की आधारशिला 2002 में रखी गई थी। अब प्लांट का 95 फीसद से ज्यादा काम हो चुका है। एनएमडीसी ने नौ मेजर प्रोजेक्ट में से सात का काम पूरा कर लिया है।

किरंदुल-विशाखापटनम रेल लाइन से प्लांट को जोड़ने का काम किया जा रहा है। 1.9 किलोमीटर की रेल लाइन का काफी काम हो चुका है। शहर में यह ट्रेन अंडरग्राउंड पटरी पर चलेगी। अंडरग्राउंड पटरी बिछाने के लिए टनल खोदी जा रही है। बाइप्रोडक्ट प्लांट का काम शुरू नहीं हो पाया है। कोक अवन और अन्य कुछ काम भी बचे हुए हैं।

नगरनार प्लांट को भाजपा बड़ी उपलब्धि मानती है। कोशिश की गई कि इसका काम विधानसभा चुनाव से पहले पूरा हो जाए लेकिन ऐसा नहीं हो पाया। अब लोकसभा चुनाव से पहले हर हाल में प्लांट शुरू कराने की तैयारी की जा रही है। प्लांट का शुभारंभ करने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आएंगे। उम्मीद है कि मार्च के प्रथम सप्ताह में नगरनार प्लांट की चिमनियां धुंआ उगलने लगेंगी।