रायपुर। राजधानी रायपुर में बीती रात खुद को गोली मारने वाले आरक्षक उग्रसेन द्विवेदी की मौत हो गई है। इलाज कर रहे डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया है। बीती रात अम्बेडकर अस्पताल में इलाज के दौरान डॉक्टरों ने उन्हें ब्रेन डेथ घोषित किया था। बेहतर इलाज के लिए आरक्षक को DKS अस्पताल किया गया था

आत्महत्या के पीछे वजह पारिवारिक बताई जा रही है। जानकारी के मुताबिक आरक्षक की पत्नी अपने तीनों बच्चों को साथ लेकर मायके रीवा (मप्र) चली गई थी। इसी बात को लेकर सिपाही तनावग्रस्त था। पुलिस मामले की तहकीकात कर रही है।

सिविल लाइन सीएसपी अभिषेक माहेश्वरी ने बताया कि आरक्षक द्विवेदी की ड्यूटी पुजारी पार्क के पास स्थित एक्सीस बैंक में लगी थी। सोमवार शाम को उग्रसेन सर्विस इंसास रायफल के साथ घर जाने के लिए बैंक से निकला और शाम साढ़े छह बजे राजभवन के पीछे शामियाना पैलेस के सामने पहुंचते ही बीच रोड पर रायफल से खुद को गोली मार ली। गोली चलने की आवाज सुनकर आसपास के लोग और सिविल लाइन थाना स्टाफ दौड़कर मौके पर पहुंचे।

एएसपी ग्रामीण तारकेश्वर पटेल के मुताबिक- रक्षित केंद्र में पदस्थ आरक्षक उग्रसेन द्विवेदी शाम करीब 6.30 बजे बैंक पहुंच कर अपना इंसास रायफल निकाला। फिर स्कूटी से सिविल लाइन पुलिस थाने के पीछे स्थित अपने सरकारी क्वार्टर पहुंचा। वहां से शामियाना पैलेस के सामने आकर करीब 7 बजे उसने सर्विस रायफल से खुद को गोली मार ली।