रायपुर। इस साल होने वाले छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस की जमीन पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी खुद टटोलेंगे। शुक्रवार को राहुल गांधी रायपुर आ रहे हैं। पार्टी के पदाधिकारियों और विधायकों के अलावा वे विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात करेंगे। संगठनों से चर्चा करके यह जानने की कोशिश करेंगे कि कांग्रेस को सत्ता में लाने के लिए क्या करना होगा? साथ ही, राहुल गांधी संगठनों को यह संदेश भी देंगे कि कांग्रेस की सरकार बनी तो किस तरह से बदलाव लाया जाएगा।

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री गिरिश देवांगन ने बताया कि राहुल गांधी शुक्रवार को दोपहर 2.15 बजे नियमित विमान से दिल्ली से रायपुर पहुंचेंगे। उनके लंच की व्यवस्था रहेगी। लंच के बाद दोपहर 3.15 बजे वे शंकरनगर में नवनिर्मित पार्टी के प्रदेश कार्यालय राजीव भवन का लोकार्पण करेंगे।

इसके बाद विभिन्न सेक्टर के व्यापारिक संगठनों के प्रतिनिधियों और मीडिया के प्रमुख लोगों से अलग-अलग मुलाकात करेंगे। इसके लिए सवा घंटे का समय तय किया गया है।

शाम पांच बजे विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधियों से मुलाकात करने के बाद पार्टी के पदाधिकारियों, विधायकों और पूर्व विधायकों के साथ बैठक शुरू होगी। यह बैठक लंबी चलेगी। तीन घंटे तक राहुल गांधी चुनावी रणनीति और तैयारी पर चर्चा करेंगे। रात सवा आठ बजे यह बैठक खत्म होगी। इसके बाद रात 8.45 बजे की नियमित फ्लाइट से राहुल गांधी दिल्ली रवाना हो जाएंगे।

हर सीट की अलग-अलग समीक्षा करेंगे

पदाधिकारियों, विधायकों व पूर्व विधायकों की बैठक में प्रदेश की सभी 90 विधानसभा सीटों पर अलग-अलग चर्चा होगी। राहुल गांधी वर्तमान विधायकों से उनकी सीट की रिपोर्ट लेंगे, इसलिए खुद पूरी तैयारी के साथ आ रहे हैं।

पार्टी सूत्रों के अनुसार राहुल गांधी हर सीट का सर्वे करा चुके हैं, इसलिए कोई भी विधायक गलत रिपोर्ट नहीं दे सकता है। जिन सीटों में कांग्रेस के विधायक नहीं हैं, वहां के पूर्व विधायकों और पार्टी के पदाधिकारियों से रिपोर्ट लेंगे। विभिन्न संगठनों से मिले फीडबैक से पार्टी के लोगों को अवगत कराएंगे।