रायपुर । शिक्षा का अधिकार (आरटीई) के तहत गरीब परिवार के बच्चों को सभी निजी स्कूलों की 25 फीसदी सीटों पर प्रवेश दिया जाना है। अभी तक जिले के निजी स्कूलों में आरटीई की 2459 सीटें खाली हैं। प्रवेश मेला सहित लगातार अभियान चलाए जाने के बावजूद जिले की करीब 30 फीसदी सीटों पर प्रवेश नहीं हो पाया है। विभाग के अधिकारियों के मुताबिक पालकों का रुझान अंग्रेजी माध्यम के स्कूलों की ओर है। इसके कारण ज्यादातर हिन्दी माध्यम के निजी स्कूलों की सीटें ही खाली हैं।

रायपुर जिले के आरंग, अभनपुर, तिल्दा व धरसीवां चारों विकासखंडों में करीब 650 निजी स्कूल संचालित हैं। इन स्कूलों में अनिवार्य एवं निःशुल्क बाल शिक्षा अधिकार के तहत 6773 सीटें हैं। इनमें से अभी तक 4317 सीटों पर प्रवेश हुआ है और 2459 सीटें खाली हैं। शहर के ज्यादातर निजी स्कूल धरसीवां विकासखंड के अंतर्गत आते हैं। इस विकासखंड में करीब 5308 सीटों पर आरटीई के माध्यम से प्रवेश होना है, लेकिन अभी करीब 3400 सीटों पर ही प्रवेश हो पाया है। हालांकि शिक्षा विभाग के अधिकारी खाली सीटों पर प्रवेश के लिए लगातार प्रयास करने की बात कह रहे हैं।

बड़े स्कूलों में प्रवेश कम

शिक्षा विभाग से मिले आंकड़ों के मुताबिक बड़े स्कूलों में प्रवेश कम हुए हैं। राजकुमार कॉलेज में नर्सरी की 12 सीटें हैं, लेकिन 4 आवेदन ही आए हैं। एनएच गोयल स्कूल की सभी पांच सीटें खाली हैं। रेयान इंटरनेशनल, सेंट जेवियर्स स्कूल, जैन पब्लिक स्कूल में एक-दो गरीब छात्रों का ही प्रवेश हुआ है। वहीं केपीएस, होली हार्ट्स, सचदेवा इंटरनेशनल, आईवा इंटरनेशनल, मॉडल इंग्लिश, स्कॉलर जैसे दर्जनों स्कूलों की आधी से ज्यादा सीटें में प्रवेश नहीं हुआ है।

बड़े स्कूलों में प्रवेश लेने से कतरा रहे

जानकारों के मुताबिक गरीब बच्चों के परिवार वाले पात्रता होने के बावजूद बड़े अंग्रेजी स्कूलों में अपने बच्चों को पढ़ाने से कतरा रहे हैं। ज्यादातर स्कूलों में उपलब्ध आरटीई सीट की तुलना में प्रवेश के लिए आवेदन कम मिले हैं। डीईओ के मुताबिक स्कूल प्रबंधन प्रवेश के लिए तैयार हैं। वहीं बोर्डिंग स्कूलों में प्रवेश को लेकर थोड़ी दिक्कतें हैं। इस संबंध में कोर्ट के आदेश की जानकारी ली जा रही है।

जिले के निजी स्कूलों में आरटीई की सीटें व प्रवेश आंकड़ों में

विकासखंड आरटीई की सीटें प्रवेश खाली

धरसींवा 5308 3400 1910

अभनपुर 511 353 158

आरंग 601 395 207

तिल्दा 353 169 184

कुल सीटें 6773 4317 2459

जिले के सीबीएसई बोर्ड वाले ज्यादातर अंग्रेजी स्कूलों में आरटीई से प्रवेश हो गया है। सीजी बोर्ड का थोड़ा बाकी है। करीब 70 फीसदी सीटों पर प्रवेश हो चुका है। खाली रह गई सीटों पर प्रवेश के लिए आने वाले पात्र आवेदनों के हिसाब से एडमिशन कराया जा रहा है। जिन स्कूलों में प्रवेश के लिए आवेदन कम मिले हैं, वहां की सीटें खाली हैं।

आशुतोष चावरे, जिला शिक्षा अधिकारी, रायपुर