राजनांदगांव। ट्रेन में गुम सामान मिलने के बाद यात्रियों के चेहरे खिल उठे। आरपीएफ की टीम ने गुम सामानों को संबंधित यात्रियों को सौंप दिया है। रेलवे सुरक्षा बल दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे नागपुर के क्षेत्राधिकार में रेल सम्पत्ति की सुरक्षा के साथ-साथ यात्री एवं यात्री परिसर की सुरक्षा जैसी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी एवं उत्तरदायित्व को निर्वहन करते हुए जो महत्वपूर्ण कार्य किए जा रहे हैं।

22 जून को रेलवे सुरक्षा बल पोस्टए गोंदिया के अधिकारी व जवानों द्वारा चेकिंग के दौरान एक लावारिस बैग को प्लेटफार्म नंबर तीन में में मिला। जांच करने पर उक्त बैग में नगदी 42000 रुपये, आईडी कार्ड मिला। मिले दस्तावेज के आधार पर बैग मालिक कार्तिक दास गुप्ता को सूचना दी। वे गोंदिया-ईतवारी पैसेन्जर में गोदिया से नागपुर तक यात्रा के दौरान जल्दबाजी में अपना बैग रेलवे स्टेशन गोंदिया में भूल गए थ। बैग मालिक के आने पर सत्यापन उपरांत सही सलामत सुपुर्द किया गया।

लावारिस हालात में मिला मोबाइल

23 जून को रेलवे सुरक्षा बल पोस्टए गोंदिया के अधिकारी व जवानों द्वारा चेकिंग के दौरान एक मोबाइल लावारिस हालात में प्लेटफार्म तीन पर मिला। जांच के बाद मोबाइल संतोष सिंह का होना पाया गया। संतोष गोदिया- दुर्ग पैसेन्जर में गोंदिया से रायपुर तक यात्रा करने के लिए बैठा था।

तभी गाड़ी आने पर वहा हड़बड़ा गया और जल्दबाजी में अपना मोबाइल स्टेशन में ही भूल गया। मोबाइल मालिक के आने पर सत्यापन उपरांत सही सलामत सुपुर्द किया गया। इसी प्रकार 18 जून को गाड़ी 68741 के आगमन के दौरान प्लेटफार्म नंबर तीन पर एक मोबाइल लावारिस हालात में पड़ा हुआ मिला। जिसे जांच के बाद संबंधित यात्री को सही सलामत लौटा दिया गया।

23 जून को यात्री भावेश विजय शर्मा द्वारा गाड़ी संख्या 12410 गोंडवाना एक्सप्रेस में यात्रा करने के लिए रेलवे स्टेशन नागपुर में टिकट लेने के लिए गया था उसी दौरान गाड़ी रवाना हो गयी है और उनका बैग गाड़ी में ही छूट गया। रेलवे सुरक्षा बल पोस्ट गोदिंया के अधिकारी व जवानों द्वारा गाड़ी को अटेण्ड कर उक्त बैग को अपने कब्जे में लिया तथा बैग मालिक को सूचना देकर वापस लौटा दिया।