डोंगरगढ। नईदुनिया न्यूज

पहले चरण के चुनाव के लिए प्रत्याशियों के नामों पर दिल्ली में मंथन कर लौटने के बाद कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया और पीसीसी चीफ भूपेश बघेल ने शनिवार को मां बम्लेश्वरी के दर्शन किए। हेलीकाफ्टर से रायपुर से डोंगरगढ़ पहुंचे कांग्रेस नेताओं से रोपवे से ऊपर मंदिर जाकर पूजा-पाठ की। उनके साथ कोर कमेटी के सदस्य और पूर्व केंद्रीय मंत्री डा. चरणदास महंत भी थे।

बताया गया कि पहले कांग्रेस के नेता सड़क मार्ग के डोंगरगढ़ आने वाले थे, लेकिन दिल्ली से रायपुर पहुंचने में देरी के बाद रायपुर में भी काफी लेट हो जाने के कारण वे सीधे हेलीकाफ्टर से आए। तीनों नेताओं ने ऊपर मां बम्लेश्वरी दर्शन के पश्चात नीचे मां बम्लेश्वरी के भी दर्शन किए।

डटे रहे टिकट के दावेदार

मंदिर दर्शन के दौरान पूरे समय तीनों नेता दावेदारों से घिरे रहे। टिकटधारियों की सर्वाधिक भीड रोपवे स्टेशन पर ज्यादा रही। कई नेता सेवा-सत्कार में लगे रहे। रोपे स्टेशन पर ही मीडिया से संक्षिप्त चर्चा में बघेल ने दो टूक कहा कि टिकट हाईकमान तय करेगा। उन्होंने डोंगरगढ़ आने का प्रमुख कारण देवी दर्शन करना बताया। इस अवसर पर कांग्रेस के जिलाध्यक्ष नवाज खान, जिपं अध्यक्ष चित्ररेखा वर्मा, चंदन यादव, संध्या देशपांडे, शोभाराम बघेल, धनेश पटिला, थानेश्वर पटिला, दिनेश शर्मा, संजीव गोमास्ता, संजय श्रीवास्तव, अनिल मेश्राम, धीरज मेश्राम, अजय अग्रवाल, क्रांति बंजारे, मदन साहू सहित अन्य कार्यकर्ता उपस्थित थे।

---