रायगढ़। नईदुनिया प्रतिनिधि

शहर के रामलीला मैदान व नटवर में इस बार कोई चुनावी रणभेरी नहीं बज सकेगी। आयोग ने दोनों ऐतिहासिक मैदानों में किसी भी पार्टी को रैली सभा एवं किसी तरह की आयोजन करने की अनुमति नहीं दी है। जिससे इन दोनों मैदानों में नेताजी के भाषण की आवाज सुनने नहीं मिलेगी और स्टेडियम एवं मिनी स्टेडियम को ऐसे किसी आयोजन के लिए आरक्षित किया गया है।

भाजपा व कांग्रेस के राष्ट्रीय स्तर के कई नेताओं की रैली आमसभा एवं कार्यक्रमों का गवाह बना रामलीला मैदान एवं नटवर स्कूल का मैदान इस बार पूरी तरह से शांत है। विधानसभा के लिए सभी राजनैतिक पार्टियों ने चुनाव प्रचार प्रसार शुरू कर रखा है लेकिन शहर के इन दोनों ऐतिहासिक मैदानों में सन्नाटा पसरा हुआ है। दरअसल निर्वाचन आयोग ने इन दोनों मैदानों में किसी भी तरह के आयोजन, रैली आमसभा या राजनैतिक कार्यक्रमों के लिए अनुमति नहीं दी है और इसकी जगह शहर के स्टेडियम परिसर एवं कलेक्टोरेट के बगल में स्थित मिनी स्टेडियम को इसके लिए आरक्षित रखा है। ऐसे में रामलीला मैदान से इस बार किसी भी नेताजी का भाषण सुनने को नहीं मिल सकेगा। जिला प्रशासन की अनुशंसा पर आयोग ने सभी राजनैतिक पार्टियों को स्टेडियम एवं मिनी स्टेडियम में ही शक्ति प्रदर्शन जैसा सार्वजनिक कार्यक्रम करने की अनुमति दी हुई है और इसके लिए भी बकायदा पार्टियों को 48 घंटे पहले ऑनलाइन परमिशन लेनी होगी। यदि किसी एक ही दिन में एक से अधिक पार्टी का कार्यक्रम हुआ तो पहले आवेदन करने वाले को प्राथमिकता दी जाएगी। जिले की पांचो विधानसभा में इस तरह से सार्वजनिक आयोजन के लिए जगह चिन्हांकित की गई है और संबंधित एसडीएम इसमें अनुमति जारी करेंगे।

रायगढ़ नहीं बिलासपुर आएंगे मोदी

2014 में चुनाव के वक्त पीएम नरेन्द्र मोदी ने रायगढ़ में विशाल जनसभा ली थी लेकिन इस बार पार्टी द्वारा भेजे गए प्रस्ताव को पीएमओ से स्वीकृति नहीं मिल सकी है। बताया जाता है कि पीएम मोदी ने रायगढ़ की जगह बिलासपुर विधानसभा का कार्यक्रम स्वीकृत कर दिया है। इसलिए रायगढ़ में पीएम का कोई आयोजन टल गया है।

18 को अमित शाह की है तैयारी

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को 18 नवंबर को रायगढ़ बुलाने की तैयारी है। पार्टी सूत्रों ने बताया कि अमित शाह खरसिया विस के अलावा रायगढ़ में भी सभा ले सकते हैं लेकिन उनका प्रोटोकाल नहीं मिला है। इसी तरह स्टार प्रचारक योगी आदित्यनाथ के लिए सरिया व स्मृति इरानी के लिए सारंगढ़ में तैयारियां की जा रही हैं।

कांग्रेस में तय नहीं हुआ कार्यक्रम

टिकट वितरण के बाद प्रचार प्रसार में भी कांग्रेस बीजेपी से कुछ पीछे चल रही है। कांग्रेस से अभी रायगढ़ जिले के लिए किसी स्टार प्रचारक के आने का कार्यक्रम फाइनल नहीं हो सका है लेकिन माना जा रहा है कि पुसौर सरिया वाले क्षेत्र में वोटर ज्यादा होने एवं प्रकाश नायक का इलाका होने की वजह से पार्टी कोई बड़ा आयोजन यहीं करेगी।

विधानसभा चुनाव में राजनैतिक पार्टियों को शहर के रामलीला मैदान एवं नटवर में किसी तरह की सभा या रैली की परमिशन नहीं मिलेगी। आयोग ने शहर के मिनी स्टेडियम एवं स्टेडियम परिसर को ही इसके लिए आरक्षित रखा है। इसलिए सभी पार्टियों को आमसभा एवं सार्वजनिक कार्यक्रम के लिए इन्हीं दो मैदानों में ही परमिशन दी जा सकेगी।

भागवत जायसवाल, एसडीएम