0.15 घायल, एक गंभीर

पᆬोटो क्रमांक- 14जेएसपी 3,4 घटना में घायल ग्रामीण, जेएसपी 5 मधुमक्खी के छत्ते।

कोतबा। नईदुनिया न्यूज। गुरुवार को दोपहर राऊत समाज के क्षेत्रीय बैठक में शामिल होने पहुंचे प्रतिनिधियों सहित स्थानीय लोगों पर मधुक्खियों ने हमला कर दिया। यहां पानी टंकी में मधुक्खियों का छत्ते बड़े पैमाने पर है। जब राऊत नाचा के साथ लोक कलाकार व समाज के लोग सड़क पर आए इस दौरान मधुमक्खियों ने दल पर हमला कर दिया। इस दौरान यहां अपᆬरा-तपᆬरी मच गई व कई लोग भगदड़ में घायल हो गए। वहीं हमले से 15 लोग घायल हो गए हैं। जिसमें से एक की स्थिति गंभीर बताई जा रही है, जिसका इलाज प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में किया जा रहा है।

गुरुवार को राऊत समाज के द्वारा क्षेत्रस्तरीय बैठक आयोजित किया गया था। बैठक में राऊत समाज के द्वारा वार्षिक कार्य योजना सहित समाज की गतिविधियों व समस्याओं को लेकर चर्चा हुई। चर्चा पश्चात तीन सूत्रीय मांगों पर समाज के द्वारा चर्चा पश्चात नगर में झांकी निकाली गई। समाज के लोग राऊत नाचा के साथ कोतबा के तिलगोड़ा प्रांगण गंझू पारा से निकले। इसी समय यहां के पानी टंकी स्थल पर स्थित मधुमक्खी के छत्ते को किसी ने छेड़ दिया और मधुमक्खी भड़क उठे। राऊत नाचा के साथ समाज के लोग मंगल भवन की ओर जा रहे थे, जो मधुमक्खी के हमले के शिकार हो गए। इस दौरान भगदड़ मच गई। लोग इधर-उधर भागने लगे और कई लोग आसपास के घरों में बचने के लिए घुस गए। इस दौरान लगभग 15 लोग मधुमक्खी के हमले से घायल हो गए। घायलों में अशोक यादव, जनसाय यादव, गोविंद सिदार, दशरथ सिदार, करम साय यादव अन्य लोग शामिल हैं। बसंत सिदार को सौ से भी अधिक स्थानों पर मधुमक्खियों ने काटा है, जिससे स्थिति अधिक गंभीर हो गई। सभी घायलों को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कोतबा में लाया गया। जहां उनका इलाज किया जा रहा है। कई घायलों को प्राथमिक चिकित्सा के बाद घर भेज दिया गया।

स्थायी समाधान नहीं

मधुमक्खियों के छत्ते को लेकर यहां स्थायी समाधान नहीं मिल रहा है। यहां पानी टंकी के उपर दर्जनों मधुमक्खियों के छत्ते हैं। इससे पूर्व यहां कई समारोह में मधुमक्खियों का हमला हो चुका है। इससे पहले यहां आयोजित जतरा मेले में भी मधुमक्खी को लेकर जमकर बचाल मचा और नगरवासियों ने नगर पंचायत सहित वन विभागपर आरोप लगाए और छत्ता हटाने की मांग की। लेकिन किसी भी विभाग के द्वारा इश पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। सामूहिक आयोजन के साथ ही कई बार निजी तौर पर स्कूल जा रहे बच्चों सहित आम लोगों पर भी आए दिन मधुमक्खी हमला करते रहते हैं, जिससे लोगों की परेशानी लगातार बढ़ रही है। गुरुवार को घटना के बाद लोगों ने उक्त समस्या पर प्रशासन द्वारा पहल नहीं किए जाने पर नाराजगी जताई ।

----------------