Naidunia
    Sunday, February 18, 2018
    PreviousNext

    सरगुजा का चार्ल्स शोभराज शिकंजे में, चार मामलों का खुलासा

    Published: Thu, 15 Feb 2018 11:20 PM (IST) | Updated: Thu, 15 Feb 2018 11:20 PM (IST)
    By: Editorial Team
    15febambp13 15 02 2018

    0 शातिर जालसाज व सहयोगी सहित तीन को पुलिस ने किया गिरफ्तार

    0 फर्जी चेक और जमानत कराने का झांसा देकर लाखों की ठगी

    0 सरगुजा के कई थानों में दर्ज हैं नामजद अपराध, पहले भी जा चुका जेल

    अंबिकापुर । नईदुनिया प्रतिनिधि

    ठगी को धंधा बनाकर अवैध कमाई करने वाला जालसाज आखिरकार कोतवाली पुलिस के हत्थे चढ़ गया। शातिर जालसाज की गिरफ्तारी से कोतवाली पुलिस ने ठगी के कुल पांच बड़े मामलों का खुलासा कर दिया है। फर्जी चेक थमाकर आरोपी द्वारा हथियाई गई बाइक को खपाने वाले तक तो पुलिस पहुंची ही, टेस्ट ड्राइव के नाम पर लेकर भागे बाइक को खरीदने वाले को भी पुलिस गिरफ्तार की है। इनके अलावा पुलिस ने नौकरी का झांसा देकर ठगी करने वाले एक अन्य आरोपी को भी गिरफ्तार किया है। ठगी के मामले में महारत हासिल राहुल सोनी को पुलिस ने जिले के चार्ल्स शोभराज की संज्ञा दी है।

    कोतवाली व गांधीनगर थाना क्षेत्र में ठगी की शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए सरगुजा पुलिस अधीक्षक सदानंद कुमार ने आरोपियों की गिरफ्तारी के कड़े निर्देश दिए थे। एडिशनल एसपी रामकृष्ण साहू ने बताया कि कोतवाली में ठगी के तीन और गांधीनगर में एक मामला दर्ज किया गया था। इन मामलों में मूलतः सोहगा दरिमा निवासी व वर्तमान में केदारपुर में रहने वाले राहुल उर्फ रोहित सोनी पिता रामचंद्र सोनी 27 वर्ष को नामजद किया गया था। आरोपी द्वारा दो मामलों में शिकायत कर्ताओं को विश्वास में लेकर दो बाइक हथिया ली गई थी। एक बाइक के एवज में फर्जी चेक दिया गया था, दूसरे में टेस्ट ड्राइव के नाम पर बाइक उड़ा ली गई थी। आरोपी स्वयं को पुलिस वाला बताकर, नौकरी लगवाने का झांसा देकर व न्यायालय से जमानत कराने के नाम पर भी ठगी की घटना को अंजाम दे चुका है। घटनाओं की गंभीरता को देखते हुए कोतवाली व क्राइम ब्रांच को आरोपी की गिरफ्तार के निर्देश दिए गए थे। पुलिस ने आरोपी राहुल सोनी को गिरफ्तार किया तो उसने कोतवाली के तीनों मामलों के अलावा गांधीनगर थाने में दर्ज ठगी के एक मामले में भी संलिप्तता स्वीकारी। आरोपी ने नर्स को 70 हजार का चेक देकर स्कूटी ले ली थी। जिस खाते का चेक दिया गया था, उसमें राशि ही नहीं थी। ठगी से हथियाई गई एक बाइक को खपाने में आरोपी की मदद सूरजपुर जिले के जयनगर थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम लटोरी करवां निवासी अहमद अंसारी को गिरफ्तार कर लिया है। मुख्य आरोपी राहुल सोनी जेल से छूटने के बाद बिश्रामपुर थाना क्षेत्र के शिवनंदनपुर में किराए का मकान लेकर रहता था। आदतन ठगी के आरोपी के पास से एक बाइक, एक स्कूटी व बाइक संबंधी कागजात, मोबाइल पुलिस ने जब्त किया है। आरोपियों को न्यायिक रिमांड पर जेल दाखिल कर दिया गया है। कार्रवाई में कोतवाली निरीक्षक विनय सिंह बघेल, उप निरीक्षक सतीश सोनवानी, सुरेश चंद्र मिंज, सउनि परशु राम पैकरा, अजीत मिश्रा, प्रधान आरक्षक कृष्णा सिंह, आरक्षक मंटू गुप्ता, क्राइम ब्रांच व साइबर से सउनि भूपेश सिंह, विनय सिंह, प्रधान आरक्षक धीरज गुप्ता, धर्मेंद्र श्रीवास्तव, रामअवध सिंह, आरक्षक कुंदन सिंह, विकास सिंह, बृजेश राय, जयदीप सिंह, अनुज जायसवाल, वीरेंद्र पैकरा, अमित विश्वकर्मा, भोजराज पासवान, उपेंद्र सिंह, दशरथ राजवाड़े, जितेश साहू, मंजीत सिंह, मनीष यादव, अंशुल शर्मा व महिला आरक्षक स्मिता रागिनी शामिल थे।

    बाइक को 25 हजार में बेचा

    ओलेक्स डॉट कॉम में अपाचे आरटीआर 160 बाइक बेचने का विज्ञापन देखकर देशवंत मेहर पिता पंचेश्वर राम से राहुल सोनी ने अपना नाम अनिल पॉल बताकर संपर्क किया एवं स्वयं को आईजी का स्टेनो बता पुराने बस स्टैंड के पास से टेस्ट ड्राइव के लिए निकला एवं वापस नहीं लौटा। आरोपी ने बताया बाइक लेकर वह सीधे करवां लटोरी आ गया था और अहमद को 25 हजार रुपए में बेच दिया था।

    नौकरी के नाम पर लाखों की ठगी, एक गिरफ्तार

    मंत्रालय में चपरासी सहित विभिन्न पदों पर नौकरी लगवा देने का झांसा देकर लाखों की ठगी के मामले में रुपए का आदान-प्रदान करने वाले लमगांव निवासी इकरामुल हक अंसारी पिता अब्बास अंसारी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस इस मामले में शामिल कथित छत्तीसगढ़ राज्य ग्रामीण बैंक रायपुर में पदस्थ कथित प्रबंधक अंकित तिग्गा उर्फ मुजाहिद्दीन अनवर की धरपकड़ के प्रयास में लगी है। पकड़ में आए कक्षा 12वीं के छात्र इकरामुल हक ने पुलिस को बताया कि वह बेरोजगारों के द्वारा पैकेट बंद कर दिए जाने वाले रकम को अंकित तिग्गा उर्फ मुजाहिद्दीन तक पहुंचाता था, जिसके एवज में चार-पांच हजार रुपए उसे मिल जाते थे। पुलिस के समक्ष अभी तक 6 लाख 30 हजार की ठगी का मामला सामने आया है। इनके द्वारा पांच अन्य लोगों से नौ लाख रुपए से अधिक बंटोरने की जानकारी दी जा रही है।

    और जानें :  # Revealing four cases
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें