कांकेर। नईदुनिया न्यूज

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी छत्तीसगढ़ सुब्रत साहू ने कांकेर में विधानसभा निर्वाचन 2018 से संबंधित नोडल अधिकारियों की बैठक लेकर सुचारू व शांतिपूर्ण ढंग से मतदान संपन्न कराने के लिए किए गए तैयारियों की समीक्षा किया। उन्होंने इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों के बैलेट यूनिट व कंट्रोल यूनिट की पर्याप्त उपलब्धता, इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों का रेण्डमाइजेशन, मतदाता जागरूकता व प्रशिक्षण के लिए रखे गए वोटिंग मशीनों का रेण्डमाइजेशन, मतदान केन्द्रों में मूलभूत सुविधाएं जैसे- रैम्प, बिजली, पानी, शौचालय की व्यवस्था, इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों के कमिशनिंग में खराब वोटिंग मशीन, वेबकास्टिंग, स्ट्रांग रूम का लॉकबुक, संगवारी मतदान केन्द्र इत्यादि की जानकारी लिया। अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। बैठक में पुलिस महानिरीक्षक दीपांशु काबरा ने सुरक्षा मानकों का ध्यान रखने के लिए निर्देशित किया।

बाक्स

विज्ञापन के लिए अधिप्रमाणन जरूरी

अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी डॉ. एस भारती दासन ने बताया कि प्रिंट मीडिया में भी मतदान दिवस व मतदान दिवस के एक दिन पूर्व प्रकाशित होने वाले राजनैतिक विज्ञापन का अधिप्रमाणन जिला स्तरीयध्राज्य स्तरीय एमसीएमसी कमेटी से आवश्यक है अर्थात 11 व 12 नवंबर को प्रकाशित होने वाले राजनैतिक पार्टी, अभ्यर्थीयां अन्य संस्थान के राजनैतिक विज्ञापन का प्री-सर्टिफिकेशन आवश्यक है। उल्लेखनीय है कि इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में भी प्रसारित होने वाले राजनैतिक विज्ञापनों का जिला स्तरीयध्राज्य स्तरीय एमसीएमसी कमेटी से प्री-सर्टिफिकेशन आवश्यक है।

कलेक्टर व जिला निर्वाचन अधिकारी रानू साहू ने जिले के सभी राजनैतिक दलों के अभ्यर्थियों से आग्रह किया है कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा दिए गए निर्देशों के परिपालन में जिला स्तरीय राज्य स्तरीय एमसीएमसी कमेटी से बिना अधिप्रमाणन के राजनैतिक विज्ञापन का प्रकाशन न कराया जावे। समीक्षा बैठक में संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी समीर विश्नोई व पदमनी भोई साहू, अपर कलेक्टर एमआर चेलक, संयुक्त कलेक्टर सीएल मार्कण्डेय, उप जिला निर्वाचन अधिकारी उमाशंकर बंदे, एसडीएम कांकेर भारती चन्द्राकर भी उपस्थित थे।

----------------------------------------