सुकमा। रविवार की देर शाम चिंतागुफा में बूबी ट्रैप ब्लास्ट की चपेट में आकर डीआरजी का जवान देवनाथ द्वार घायल हो गया। सोमवार सुबह साढ़े सात बजे हेलीकॉप्टर से उसे रायपुर रेफर किया गया।

एएसपी शलभ सिन्हा ने बताया कि रविवार की शाम लगभग 6 बजे चिंतागुफा थाने से डीआरजी जवानों की टुकड़ी सर्चिंग के लिए रवाना हुई थी। इसी दौरान देवनाथ ब्लास्ट की चपेट में आ गया।

घायल होने पर उसे तुरंत चिंतागुफा कैंप लाया गया। यहां स्थित सीआरपीएफ कैंप के अस्पताल में जवान का प्राथमिक उपचार कर सोमवार को रायपुर रेफर कर दिया गया। डॉक्टरों ने उसकी हालत खतरे से बाहर बताई है।

आईईडी बरामद कर किया निष्क्रिय

एएसपी सिन्हा ने बताया कि सोमवार सुबह सीआरपीएफ की 150 बटालियन व डीआरजी के जवानों की टुकड़ी रवाना की गई थी। रविवार शाम को हुए ब्लास्ट वाली जगह से जवानों ने जिंदा आइईडी बरामद किया, जिसे बाद में सीआरपीएफ की बीडीएस टीम ने मौके पर ही निष्क्रिय कर दिया।