सुकमा। शुक्रवार शाम लगभग साढ़े पांच बजे माओवादियों ने सुकमा जिले के दोरनापाल-जगरगुंडा मार्ग पर चिंतागुफा और बुरकापाल सीआरपीएफ कैंप के बीच मुख्य सड़क पर यात्री बस को आग के हवाले कर दिया। घटना को अंजाम देने से पहले जगरगुंडा जा रही बस को रोककर यात्रियों को सामान समेत उतार दिया।

फिर डीजल टैंक फोड़कर बस फूंक दी और भाग खड़े हुए। आगजनी से दहशतजदा यात्री लगभग शाम 6 बजे चिंतागुफा थाने पहुंचे और वारदात की जानकारी दी। गौरतलब है कि माओवादियों ने बीते एक माह में कोंटा इलाके में ही आगजनी की चार बड़ी वारदातों को अंजाम दिया है।

दिसंबर माह का घटनाक्रम

- 20 दिसंबर की शाम इंजरम-भेज्जी मार्ग पर कोत्ताचेरू के पास सड़क निर्माण में लगी टिप्पर फूंक दी थी।

- 21 दिसंबर को नक्सलियों ने किस्टराम के कासाराम में सड़क निर्माण में लगे दो दर्जन से ज्यादा वाहनों में आगजनी की थी।

- 22 दिसंबर को माओवादियों ने दोरनापाल-जगरगुंडा मार्ग पर पोलमपल्ली और कांकेरलंका के पास पिकअप वाहन को आग के हवाले कर दिया था।

- 24 दिसंबर को नक्सलियों ने कोंटा से लगभग साढ़े तीन किमी दूर एनएच-30 पर चिखलगुड़ा के पास स्कॉर्पियो व बाइक को आग के हवाले कर दिया था।