सुकमा। नईदुनिया न्यूज

जिले में दो पंचायत सचिव की सेवा समाप्ति की कार्रवाई जिला पंचायत सीईओ ऋचा प्रकाश चौधरी ने की है। दोनों सचिवों पर सरकारी राशि गबन करने का आरोप था जो जांच में सही पाया गया। इससे पहले नागाराम व डब्बाकोंटा के पंचायत सचिव की सेवा समाप्त की गई है। जानकारी के अनुसार सरकारी राशि गबन करने की बात सही पाई जाने पर कोंटा ब्लॉक के बुर्कलंका पंचायत सचिव विजेंद्र कुमार पंत व छिंदगढ़ ब्लॉक के कवासीरास पंचायत के सचिव हिरमाराम को सेवा से बर्खास्त कर दिया गया है। बुर्कलंका के सचिव विजेंद्र कुमार को 17 अप्रैल 2018 को शासकीय राशि के आहरण में अनियमितता एवं शासकीय योजनाओं के संचालन में रुचि नहीं लेने के कारण निलंबित किया गया था। उसके बाद आरोप पत्र जारी कर जांच की गई थी। जांच में 14 वें वित्त योजना से 4 लाख 60 हजार का आहरण कर कार्य नहीं करते हुए गबन करना सही पाया गया। वही छिंदगढ़ ब्लाक के कवासीरास पंचायत के सचिव हिरमाराम मरकाम को 8 जनवरी 2019 को प्रधानमंत्री आवास योजना अंतर्गत 20 लाख सात हजार 58 रुपए की राशि का हितग्राहियों से आहरण कर आवास नहीं बनाए जाने एवं शासकीय राशि का दुरुपयोग करने के कारण निलंबित किया गया था। इसके बाद आरोप पत्र जारी कर विभागीय जांच की गई जिसमें आरोप सही पाए गए। इन आधारों पर उक्त सचिवों की सेवा समाप्ति की कार्रवाई जिला पंचायत सीईओ ऋचा प्रकाश चौधरी ने की है।