जांजगीर-चांपा। जिले में स्वर्णाधान के स्थान पर स्वर्णा सब-1 धान उपलब्ध कराई गई है, जो स्वर्णा धान के समरूप है तथा नई प्रजाति है। इस आशय की जानकारी देते हुए बीज प्रक्रिया केन्द्र खोखसा के प्रभारी अधिकारी ने बताया कि जिले में 52 हजार 361 क्विंटल स्वर्णाधान भंडारित किया गया था, जिसे वितरित किया जा चुका है। वर्तमान में स्वर्णा धान उपलब्ध नहीं है। बल्कि उसके बदले स्वर्णा सब-1 धान उपलब्ध कराया गया है। उन्होंने कहा कि धान स्वर्णा सब-1 के अतिरिक्त यदि किसानों द्वारा एमटीयू-1010 एवं धान आईआर-64 की की मांग की जाती है तो मांग के अनुसार समितियों में बीज उपलब्ध कराया जाएगा।

----------------------------------------------------