Naidunia
    Monday, December 18, 2017
    PreviousNext

    मुसीबत की मारी ऐसा विज्ञापन देख फंस गई, आप भी बच के रहना

    Published: Fri, 08 Dec 2017 03:45 AM (IST) | Updated: Fri, 08 Dec 2017 10:20 AM (IST)
    By: Editorial Team
    tantric 2017128 101948 08 12 2017

    भिलाई। पति की मौत के बाद पारिवारिक कलह से जूझ रही खुर्सीपार निवासी एक महिला ने टीवी पर मियां रहमानी बाबा का विज्ञापन देखकर उसे फोन किया। पीड़िता ने अपना दुख बताकर उसे दूर करने की विनती की। फोन पर बाबा बनकर बात कर रहे ठग ने पूजा सामग्री के नाम पर रुपयों की मांग की।

    पीड़िता ने जब पहली किस्त डाल दी तो बदमाश ने फिर से रुपए मांगे और रुपए न देने पर उल्टी तंत्र क्रिया कर पीड़िता को बर्बाद करने की धमकी दी। शिकायत पर खुर्सीपार पुलिस ने ठग भाइयों को उत्तर प्रदेश के मुजफ्फर नगर जिले से गिरफ्तार किया है।

    ऑपरेशन एएसपी डीआर पोर्ते ने बताया कि ठगी के मामले में उत्तर प्रदेश के मुजफ्फर नगर जिले कवाल शहर से लगे ग्राम चितौरा निवासी आरोपी सोनू मलिक (24) और आरिफ मलिक (29) को गिरफ्तार किया है। दोनों आरोपी भाई हैं और मियां रहमानी बाबा के नाम पर लोगों से ठगी करते थे।

    उन्होंने बताया कि खुर्सीपार निवासी 40 वर्षीय महिला ने खुर्सीपार थाने में लिखित शिकायत कर छह लाख 20 हजार रुपए के ठगी की रिपोर्ट की थी। वर्ष 2004 में पीड़िता के पति की मौत हो गई थी और उसके बाद से वो पारिवारिक कलह से जूझ रही थी।

    पीड़िता के ससुराल वाले उसे परेशान कर रहे थे। इसी दौरान उसने टीवी पर मियां रहमानी बाबा का विज्ञापन देखा। दुश्मनों से छुटकारा पाने और पारिवारिक कलह से मुक्ति जैसे स्लोगन पढ़कर पीड़िता झांसे में आ गई और विज्ञापन में दिए गए फोन नंबर पर कॉलकर अपनी परेशानी बताई।

    पीड़िता से बात करने के बाद बदमाश ने पूजा सामग्री के नाम पर 20 हजार रुपए पहली किस्त के रूप में मांगे। पैसे मांगे जाने पर पीड़िता ने उसके दिए गए पंजाब नेशनल बैंक के खाते में रुपए डाल दिए। रुपए भेजने के बाद भी जब पीड़िता को कोई असर होता नहीं दिखा तो उसने फिर से फोन किया और समस्या का कोई समाधान न होने की बात कही।

    उधर से आरोपी ने और कुछ क्रिया करने के नाम पर फिर से पैसे मांगे। पीड़िता ने फिर से पैसे भेजे, फिर भी फायदा नहीं हुआ तो उसने फर्जी बाबा को फोनकर और रुपए न भेज पाने की बात कहते हुए अपने रुपए वापस मांगे। रुपए न देने पर पीड़िता ने पुलिस से शिकायत करने की बात कही।

    रुपए न भेजने की बात पर आरोपी ने पीड़िता को धमकाया कि यदि वो पैसे नहीं भेजेगी तो वो उल्टी तंत्र क्रिया कर देगा, जिससे उसका बहुत ही अनिष्ट हो जाएगा। बदमाशों की धमकी से डरकर पीड़िता ने अपने और अपने दो बच्चों की सलामती की खातिर पड़ोसियों से उधार में रुपए लेकर पांच किस्तों में कुल छह लाख 20 हजार रुपए आरोपियों के खाते में डाल दिए।

    अंत में जब उसे इस बात का अहसास हुआ कि वो ठगी का शिकार हो रही तो उसने पुलिस से शिकायत की। शिकायत के आधार पर पुलिस की टीम उत्तर प्रदेश के मुजफ्फर नगर जिले में गई और आरोपियों सोनू मलिक और आरिफ मलिक को गिरफ्तार किया। पुलिस दोनों आरोपियों को ट्रांजिट रिमांड पर लेकर दुर्ग वापस लौटी है।

    पीड़िता से लच्छेदार बातें करते थे आरोपी

    एएसपी डीआर पोर्ते ने बताया कि लोगों को अपने जाल में फांसने के लिए वो उनसे लच्छेदार बातें करते थे। टीवी में विज्ञापन देने के अलावा उन्होंने विभिन्ना ट्रेनों में भी अपने स्टीकर चिपका रखे थे। उन पर लिखा नंबर देख कई लोग उनसे फोन पर संपर्क करते थे।

    इसके बाद वे पीड़ितों से रुपए ठगना चालू कर देते थे। आरोपियों ने पूछताछ में विभिन्ना शहरों के लोगों से ठगी करने की बात स्वीकार की है। उन्होंने बताया कि आरोपी अपने विज्ञापन में वशीकरण, मनचाही शादी, दुश्मन व सौतन से छुटकारा और गृह कलेश से मुक्ति दिलाने का दावा करते थे।

    ठगी के बाद से दोनों आरोपी जगह बदल-बदलकर छिपते फिर रहे थे। पुलिस ने उनके खातों के ट्रांजेक्शन लोकेशन के आधार पर गिरफ्तार किया और धारा 420 (धोखाधड़ी) व 34 (सामूहिक रूप से) के तहत कार्रवाई की है।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें