पथरिया। नईदुनिया न्यूज

ग्राम रोहराकला में बारात से लौट कर दूल्हा दूल्हन की स्वागत का जश्न अचानक ही मातम में परिवर्तित हो गया। चाचा की शादी में शामिल होने आए छह साल का बालक रोड किनारे खड़े होकर डीजे देख रहा था वह सड़क के दूसरे ओर से स्थित दुकान से चॉकलेट लेकर अपने घर की ओर लौट रहा था। तभी अचानक तेज रफ्तार हाइवा ने चपेट में ले लिया। बच्चे की सिर चक्के में आने से मौके में मौत हो गई। घर का एक नन्हा चिराग हमेशा के लिए बुझ गया। शादी घर में मातम पसर गया। आक्रोशित लोगों ने सड़क में चक्काजाम कर दिया। इससे एक किलोमोटर लंबी वाहनों की कतार लग गई। जानकारी मिलते ही पुलिस और तहसीलदार मायानंद चंद्रा मौके में पहुंचे उन्होंने मृतक के परिजन को तत्कालिक सहायता राशि के रूप में 25 हजार दिया। मामले में पुलिस ने आरोपित चालक के खिलाफ जुर्म दर्ज कर को गिरफ्तार कर लिया।

जानकारी के अनुसार थाना पथरिया के अंतर्गत ग्राम बरदुली, जेवरा निवासी ऑटो चालक उपेंद्र घृतलहरे पिता कमल प्रसाद घृतलहरे (29)पत्नी और एकमात्र बेटे को लेकर अपने भाई की शादी में शामिल होने के लिए ग्राम रोहराकला आया था। शुक्रवार को करीब 12 बजे बारात के वापस रोहरा पहुंचते ही सड़क किनारे बाराती डीजे की धुन में जश्न मना रहे थे। उसी समय बालक हिमेश घृतलहरे (6) अन्य बच्चे के साथ खड़े होकर डीजे देख रहा था। इसके बाद सड़क के दूसरे ओर की दुकान से चॉकलेट लेकर अपने घर की ओर लौट रहा था। तभी मेन रोड में रेत भरकर सरगांव से पथरिया की ओर आ रहे तेज रफ्तार हाइवा क्रमांक सीजी 04 एल डब्लू 7037 के चालक संजय साहू पिता सेवकराम साहू (28)ग्राम किरना थाना सरगांव निवासी ने तेज रफ्तार व लापरवाही पूर्वक वाहन चलाते हुए हिमेश घृतलहरे को चपेट में ले लिया। हाइवा के चक्के के नीचे आने पर बालक के सिर आ जाने से मौके पर मौत हो गई। यह देखकर मौके में लोग दौड़ाकर चालक को पकड़ लिए और जमकर पिटाई किए। इसके बाद आक्रोशित लोगों ने तीन घंटे चक्कजाम कर दिया। दुर्घटना के बाद लोगों की आक्रोशित होने की जानकारी मिलते ही पथरिया पुलिस मौके में पहुंची और आरोपी चालक को गिरफ्तार कर लिया। आरोपित के खिलाफ आइपीसी की धारा 304 (ए) के तहत कार्रवाई की गई है।

एकलौते बेटे ने भी छोड़ा साथ

ज्ञात हो हिमेश माता-पिता का इकलौता लड़का था। गांव वालों ने बताया कि मृतक मासूम को मिलाकर दो भाई एवं एक बहन थे । कुछ समय पहले तबियत खराब होने के चलते उसके एक भाई की भी मौत हो चुकी थी । ऐसे में अब मासूम हिमेश के भी दुनिया छोड़ देने से परिजनों को गहरा आघात पहुँचा है। अब उसके माता पिता की सेवा के सेवा की पूरी जिम्मेदारी केवल उसकी बड़ी बहन को ही निभानी होगी ।

भ़ड़के ग्रामीणों ने चालक को पीटा

घटनास्थल पर जैसे ही मासूम के सड़क दुर्घटना पर मौत की जानकारी लोगों को मिली , सभी फौरन ही मौके पर पहुंच गए। ग्रामीणों ने रोष में आकर वाहन चालक की जमकर धुनाई कर दी। इसके बाद सड़क के दोनों ओर लकड़ी एवं कांटे रखकर आवागमन अवरुद्घ कर दिया। मामले की सूचना प्राप्त होने पर पथरिया थाना प्रभारी और दल मौके पर पहुंचे , जहॉं से वाहन चालक को गिरफ्तार कर पथरिया थाना भेजा गया और मामले को शांत करने की कोशिश की । घटना स्थल पर पहुचे पथरिया तहसीलदार मायानंद चंद्रा ने शोकाकुल परिवार को तत्काल सहायता के रूप में पधाीस हजार रुपये नकद प्रदान किया । साथ ही ग्रामीणों को आश्वासन देते हुए कहा कि भविष्य में ते रफ्तार और भारी वाहनों पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाने की प्रशासन द्वारा कोशिश करने की बात कही।