अंबिकापुर । नईदुनिया न्यूज

निरीक्षण अधिकारी सैनिक स्कूल सोसायटी रक्षा मंत्रालय कोमोडोर जी रामबाबू 9 से 11 दिसंबर तक सैनिक स्कूल के निरीक्षण दौरे पर अंबिकापुर आएंगे।

त्रिदिवसीय निरीक्षण के दौरान कोमोडोर जी रामबाबू सैनिक स्कूल अंबिकापुर के रख-रखाव, शिक्षण कार्य की गुणवत्ता, नियम पालन और वित्तीय अनुशासन की गहन पड़ताल करेंगे। कोमोडोर जी रामबाबू एक उच्च शिक्षित अत्यंत अनुभवी और तेज तर्रार अधिकारी के रूप में जाने जाते हैं। उनका स्वयं का भारतीय नौसेना के विभिन्न महत्वपूर्ण पदों के अनुभव के साथ सैनिक स्कूलों के प्राचार्य के रूप में एक लंबा और सफल अनुभव है। इनके विषय में सबसे रोचक बात यह है कि नौसेना में कोमोडोर पद पर पदोन्नत होने से पूर्व वे करीब ढ़ाई वषोर् तक सैनिक स्कूल अंबिकापुर में तथा लगभग छह महीने तक सैनिक स्कूल कजाकोट्टम, केरल में प्राचार्य पद संभाल चुके हैं। सैनिक स्कूल अंबिकापुर को अपने वर्तमान स्थायी स्थल मेंड्राकलां स्थानांतरित करने का सबसे गंभीर प्रयास कोमोडोर जी रामबाबू ने प्रारंभ किया था। अपने अत्यंत सफल कार्यकाल के दौरान कोमोडोर जी रामबाबू सैनिक स्कूल को सफलता की नई ऊंचाईयों तक पहुंचाया और स्कूल के आंतरिक प्रशासन को दृढ़ता और स्थायित्व प्रदान किया। इन्होंने ही अपने कार्यकाल में मेंड्राकला स्थित सैनिक स्कूल परिसर के शैक्षणिक भवन का उद्घाटन कराया था। सैनिक स्कूल के प्राचार्य कर्नल जितेंद्र डोगरा के अनुसार कोमोडोर जी रामबाबू का निरीक्षण दौरा और उनके दिशा-निर्देश स्कूल के लिए अत्यंत लाभदायक होंगे।