रायपुर। राजधानी से लगे ग्रामीण क्षेत्र में इन दिनों फर्जी बाबाओं ने ठगी का जाल बिछा रखा है। ये ठग बाबा भोले-भाले लोगों को उनकी मजबूरी को देखते हुए ठगी का शिकार बना रहे हैं। आरंग थानाक्षेत्र के भलेरा गांव में एक ऐसा ही मामला सामने आया। किसान सेवकराम साहू के घर पहुंचे दो अज्ञात ठगों ने घर में शांति लाने के लिए पूजा-पाठ करने का झांसा देकर 22 हजार रुपए ठग लिए। ठगी के शिकार किसान ने घटना के 20 दिन बाद शुक्रवार रात थाने में धोखाधड़ी की शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने मामले में चार सौ बीसी का केस दर्जकर ठगों की तलाश शुरू कर दी है।

किसान सेवकराम साहू ने पुलिस को बताया कि 22 जून की रात 11 बजे दो अज्ञात व्यक्ति घर आए और कहा कि तुम्हारे घर में पूजा-पाठ करेंगे ताकि सुख-शांति बना रहे। ठगों के झांसे में सेवकराम आसानी से आ गया। उनके कहने पर पूजा-पाठ का सामान खरीदने 22 हजार रुपए दे दिए।

घटना के दौरान सेवकराम की पत्नी ठगिया बाई भी मौजूद थी। पैसे लेकर ठग दूसरे दिन आने की बात कहकर चले गए फिर दोबारा नहीं आए। सेवकराम का कहना है कि पूछने पर एक ने अपना नाम शत्रुघन ध्रुव ग्राम खपरी दूसरे ने जोधन सावरा ग्राम लखौली का रहने वाला बताया था, लेकिन पतासाजी करने पर उस नाम का कोई भी व्यक्ति गांव में नहीं होना पाया।