कोरबा। नईदुनिया न्यूज

युवाओं के चरित्र का सकारात्मक पक्ष ही देशभक्ति एवं राष्ट्र निर्माण के लिए आवश्यक है। उक्त उद्गार कार्यक्रम अधिकारी रासेयो डॉ. शिवदयाल पटेल ने राष्ट्रीय सेवा योजना शासकीय महाविद्यालय बरपाली की ओर से नेहरू युवा केंद्र के तत्वावधान में देशभक्ति एवं राष्ट्र निर्माण विषय पर आधारित जिला स्तरीय भाषण प्रतियोगिता में मुख्य अतिथि की आसंदी से व्यक्त किए। प्रतियोगिता घंटाघर के समीप एक होटल में हुई। इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि एवं निर्णायक के रूप में डॉ. प्यारेलाल आदिले जय बूढ़ादेव कला एवं विज्ञान महाविद्यालय कटघोरा उपस्थित थे।

डॉ. आदिले ने कहा कि व्यक्ति और देश का संबंध प्राण और शरीर की तरह है, इसलिए शिक्षा से स्वहित और देशहित को प्राप्त करना चाहिए। निर्णायक के रूप में उपस्थित विमला भास्कर व्याख्याता आंग्ल विभाग उच्चतर माध्यमिक विद्यालय पता़ढ़ी ने कहा कि नारी शक्ति को राष्ट्र भक्ति से जोड़कर देश का निर्माण व विकास कार्य हो सकता है। नेहरू युवा केंद्र के कार्यक्रम समन्वयक प्रतीक दुबे ने आव्हान किया कि युवा राष्ट्र के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करें। सहायक लेखापाल संतराम यादव ने युवाओं की ओर से जिले में किए जा रहे सेवा कार्यों की सराहना की। मरकी माता महिला कल्याण समिति घुड़देवा बस्ती को स्वच्छता में किए गए श्रेष्ठ कार्य के लिए पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम में राष्ट्रीय सेवा योजना, नेशनल कैडेट कोर, स्काउट गाइड, महिला मंडल एवं युवा मंडल सहित अन्य 18 से 29 वर्ग आयु वर्ग के प्रतिभागियों ने भाग लिया। प्रतियोगिता में जैनेंद्र कुर्रे प्रथम, सविता मरावी द्वितीय एवं वेदप्रकाश सोनी ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। प्रथम पुरस्कार पांच हजार रुपये, द्वितीय दो हजार व तृतीय एक हजार रुपये भारत सरकार के खेल मंत्रालय की ओर से प्रदान किया गया। प्रथम पुरस्कार प्राप्त करने वाले प्रतिभागी को राज्य स्तरीय प्रतियोगिता हेतु चयनित किया गया। प्रतियोगिता को पूर्ण कराने में निरंजन श्रीवास, नवीनकांत साहू, अनिता निर्मलकर, कमलेश मरकाम, मंजुलता केरकेट्टा, अशोक मरावी, गीता केंवट, सुमित राज, अनिल सोनवानी, माना यादव, रामसागर पटेल, रमेश बरेठ, सुनीता मरावी, नवयुवा समिति सलिहाभाठा का योगदान रहा।