Naidunia
    Saturday, December 16, 2017
    PreviousNext

    आप सरकार ने जर्मन कंपनी को पहुंचाया लाभ : कपिल मिश्रा

    Published: Wed, 06 Dec 2017 09:39 PM (IST) | Updated: Wed, 06 Dec 2017 09:50 PM (IST)
    By: Editorial Team
    kapil mishra 6 12 17 06 12 2017

    नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी (आप) शासित दिल्ली सरकार पर अब अस्पतालों में डायलिसिस मशीनों की खरीद में टेंडर नियमों की अनदेखी कर जर्मन कंपनी को फायदा पहुंचाने का आरोप लगा है। दिल्ली के पूर्व मंत्री व विधायक कपिल मिश्रा ने बुधवार सुबह सरकार पर गंभीर आरोप लगाया और इस पर सरकार से जवाब मांगा। सरकार की तरफ से इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है।

    कपिल मिश्रा ने कहा कि प्रधानमंत्री डायलिसिस प्रोग्राम (यह नेशनल हेल्थ मिशन योजना के अंतर्गत आता है) के तहत दिल्ली सरकार ने 24 अक्टूबर को दिल्ली के विभिन्न अस्पतालों में लगाने के लिए हेमोडायलिसिस मशीन, आरओ सिस्टम आदि खरीदने व लगाने के लिए टेंडर आमंत्रित किया।

    दो नवंबर को प्री-बिड मीटिंग के बाद छह नवंबर को दिल्ली सरकार ने एक संशोधन के द्वारा टेंडर के नियमों में बदलाव कर दिया। एक तरह की खासियत वाली डायलिसिस मशीन जोकि केंद्र सरकार के डॉक्यूमेंट के अनुसार वैकल्पिक थी उसे अनिवार्य कर दिया गया।

    नियमों में इस बदलाव के बाद अब कोई भी सप्लायर जर्मनी की एक विशेष कंपनी के अलावा कहीं और से मशीन नहीं खरीद पाएगा। अन्य सभी कंपनियों की मशीनों को दिल्ली सरकार ने टेंडर प्रक्रिया से बाहर कर दिया। मिश्रा के मुताबिक उक्त कंपनी की मशीन काफी महंगी होती है, साथ ही इसका रखरखाव भी खर्चीला होता है।

    इस टेंडर से सरकार को 13 करोड़ रुपये का नुकसान होगा। साथ ही प्रत्येक मरीज पर डायलिसिस के लिए 700-800 रुपये का अतिरिक्त भार बढ़ेगा। इससे पहले स्वास्थ्य विभाग में दवाइयों की खरीद-फरोख्त को लेकर भी विधायक कपिल मिश्रा सरकार पर गंभीर आरोप लगा चुके हैं।

    उन्होंने दिल्ली सरकार पर 300 करोड़ रुपये की एक्सपायरी दवाएं खरीदने और घोटाले का आरोप लगाया था, जिस पर एसीबी (एंटर करप्शन ब्यूरो) ने भी कार्रवाई की थी।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें