नई दिल्ली। आयकर विभाग कालाधन विरोधी अभियान के तहत दिल्ली में निजी लॉकर की तलाशी जारी रखे हुए हैं। विभाग ने यहां से कुल 85.2 करोड़ रुपये की नकदी और आभूषण जब्त किए हैं।

अधिकृत सूत्रों ने बताया कि आयकर विभाग के दस्ते ने शुक्रवार को लॉकर से 23 करोड़ रुपये से अधिक के सोने के आभूषण, बिस्कुट, बेशकीमती पत्थर और नकदी बरामद किए।

गौरतलब है कि आयकर विभाग नई दिल्ली के साउथ एक्सटेंशन इलाके में सप्ताह भर में कई लॉकरों से 61 करोड़ रुपये की ऐसी संपत्ति जब्त कर चुका है। अभियान से जुड़े सूत्रों ने बताया कि अभी तक जब्त 85.2 करोड़ रुपये की संपत्ति में आठ करोड़ रुपये की नकदी (अधिकतम 2000 रुपये के नोट) है।

इसके अलावा सोना-चांदी के आभूषण, हीरे और अन्य बेशकीमती पत्थर बरामद किए गए हैं। यह संपत्ति दिल्ली के बिल्डर, गुटखा व्यापारी और कुछ अन्य कारोबारी की हैं।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि यह मामला नोटबंदी के बाद पाए गए कालाधन से संबंधित है। कुछ अन्य मामलों की नई बेनामी रोधी कानून के तहत जांच की जा रही है। विभाग के अनुसार, इन संपत्तियों का रिटर्न में खुलासा नहीं किया गया था और निजी तिजोरियों में छिपाकर रखा गया था। बैंक लॉकरों की तरह संचालित निजी लॉकर गैरकानूनी हैं और कानून के तहत मान्य नहीं हैं।