नई दिल्ली। दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) के शैक्षिक सत्र 2019-20 में दाखिले के लिए प्रशासन की तरफ से तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। प्रशासन की तरफ से आठ जनवरी को दाखिला समिति एवं शिकायत निवारण समिति का गठन कर दिया गया है। स्टूडेंट वेलफेयर के डीन प्रो. राजीव गुप्ता ने कहा कि केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की परीक्षाएं इस वर्ष जल्दी शुरू हो जाएंगी। ऐसे में हमारी तरफ से तैयारियां की जा रही हैं कि मई के पहले या दूसरे हफ्ते में दाखिले से जुड़े दिशा निर्देशों को जारी कर दिया जाए। प्रो. गुप्ता ने कहा कि पिछले साल की तुलना में इस साल दाखिला समिति के कम सदस्य नियुक्त किए गए हैं। पिछले साल करीब 45 सदस्य थे, जबकि इस बार 11-11 सदस्य चुने गए हैं। दाखिला समिति की बैठक अगले हफ्ते होगी।

छात्रों के दाखिले सत्यापन पर भी होगी नजर

प्रो. राजीव गुप्ता ने कहा कि कोशिश रहेगी कि जल्द से जल्द छात्रों के दस्तावेजों के सत्यापन की प्रक्रिया पूरी हो सके। सभी कॉलेजों के पास यह प्रणाली मौजूद है कि वह अपने स्तर पर छात्रों के दस्तावेजों की जांच स्वयं कर सकें। डीयू की तरफ से भी दस्तावेजों की जांच पर विशेष ध्यान दिया जाएगा।

आवेदन रद करने के कम मौके मिलेंगे

इस साल छात्रों को डीयू की वेबसाइट में जाकर ऑनलाइन आवेदन के बाद उसे रद्द करने के कम मौके दिए जाएंगे। गत दो वर्षों में छात्रों ने कई बार ऑनलाइन आवेदन रद किए थे। इस कारण दाखिला प्रक्रिया को पूरा करने में दिक्कत हुई थी।

इन सुझावों पर होगी चर्चा :

प्रो. गुप्ता ने बताया कि हमने डीयू की दाखिला प्रक्रिया को बेहतर और सरल बनाने के लिए छात्रों एवं लोगों से सुझाव मांगे थे। हमें 100 सुझाव मिले हैं। इन सभी सुझावों पर दाखिला समिति की बैठक में चर्चा की जाएगी। -दाखिले के लिए मूल दस्तावेजों को जमा न किया जाए। इससे छात्रों को दिक्कतें होती हैं। -भाषा के कोर्स में दाखिले के समय यह देखा जाए कि आवेदनकर्ता ने 10वीं एवं 12वीं में वह भाषा पढ़ी है या नहीं। -खेल कोटे से दाखिले के लिए बेहतर तरीके से ट्रायल किया जाए। जून के तीसरे हफ्ते से खेल कोटे ट्रायल शुरू होते हैं। इसे और भी पहले शुरू किया जाए।

दाखिला समिति के सदस्यों के नाम प्रो. राजीव गुप्ता- समिति के अध्यक्ष (डीन स्टूडेंट््‌स वेलफेयर) प्रो. एसए हाशमी - फिजिक्स विभाग डॉ. संजीव सिह - डीयू कंप्यूटर सेंटर के संयुक्त निदेशक डॉ. रंजीत बेहरा - संस्कृत विभाग डॉ. हरीश धवन - आर्यभट्ट कॉलेज डॉ. आशुतोष भारद्वाज - फिजिक्स विभाग डॉ. जसविदर सिह - प्राचार्य, श्री गुरु तेग बहादुर खालसा कॉलेज डॉ. मनोज खन्ना - प्राचार्य, रामजस कॉलेज डॉ. जॉन वर्गीस - प्राचार्य, सेंट स्टीफंस कॉलेज डॉ. विभा सिह चौहान - प्राचार्य, किरोड़ीमल कॉलेज डॉ. रोहन राय - डिप्टी रजिस्ट्रार (मेंबर सेक्रेटरी) शिकायत निवारण समिति के सदस्यों के नाम प्रो. एके वर्मा अध्यक्ष (रसायन विज्ञान विभाग) डॉ. संजीव सिह - डीयू कंप्यूटर सेंटर के संयुक्त निदेशक डॉ. पिकी शर्मा - लॉ सेंटर-2, लॉ फैकल्टी डॉ. डीटी मेसराम - रसायन विज्ञान विभाग डॉ. रजनीकांत वर्मा - जाकिर हुसैन कॉलेज डॉ. विजय वर्मा - दयाल सिह कॉलेज डॉ. अनामिका प्रसाद - एआरएसडी कॉलेज डॉ. मोनिका कौल - हंसराज कॉलेज डॉ. हेमंत वर्मा - हिदू कॉलेज डॉ. मनस्विनी एम योगी - ओएसडी (दिल्ली स्कूल ऑफ जर्नलिज्म) डॉ. सुनैना कनौजिया - ओएसडी (इंस्टिट््‌यूट ऑफ साइबर सिक्योरिटी एंड लॉ)