नई दिल्ली। नोएडा में एक दूल्हा अपनी शादी के दिन बारात में बारातियों के साथ नाच रहा था। उसने सोचा भी न था कि अगले ही पल क्या होने वाला है। जिस ब्रिज पर वह बारात में नाच रहा था, वह ब्रिज अचानक ढह गया और दूल्हे नाली में जा गिरा।

रिपोर्ट में बताया गया है कि शनिवार को नोएडा के होशियारपुर गांव में दूल्हे के साथ लगभग 15 लोग नाले में गिर गए। घटना में दो बच्चे भी घायल हो गए। पुल एक नाले के ऊपर बनाया गया है और यह ओलिव गार्डन शादी के बैंक्वेट हॉल से जुड़ा हुआ है, जहां शादी हो रही थी। इसमें कोई मामला दर्ज नहीं किया गया क्योंकि बैंक्वेट हॉल के मालिक ने दुल्हन के परिवार को 3 लाख रुपए नकद दिए तो दोनों पक्षों के बीच समझौता हो गया।

रिपोर्ट्स के मुताबिक 35 साल का दूल्हा अमित यादव गाजियाबाद का एक बिजनेसमैन है जिसकी शादी 32 साल की सोनम से हो रही थी जो कि दिल्ली की रहने वाली है। यह घटना तब हुई जब दुल्हन का परिवार बारातियों के स्वागत के लिए ब्रिज के दूसरे सिरे पर खड़ा था। दुल्हन के पिता ने वेडिंग ऑर्गनाइजर को लिखा जिसमें कहा गया कि वे कोई शिकायत दर्ज नहीं करवाना चाहते हैं।

स्टेशन हाउस ऑफिसर मिथिलेश उपाध्याय ने रिपोर्ट में कहा कि पुलिस को रात 9.30 बजे होशियारपुर में ब्रिज के ढहने और दर्जनों के घायल होने की सूचना मिली। पुलिस ने जानकारी दी कि इसमें 8 साल से कम उम्र के दो बच्चे घायल हुई जिन्हें इलाज के निजी अस्पताल भर्ती कराया गया। दूल्हे के छोटे भाई के मुताबिक इस ब्रिज के अलावा वेडिंग वेन्यू से निकलने का कोई और रास्ता नहीं था। कई लोग जो इस नाली में गिरे उनके मोबाइल फोन और ज्वेलरी खो दी।

इसे बीच वेडिंग वेन्यू ओलिव गार्डन के मालिक ने इसे दुर्भाग्यपूर्ण दुर्घटना बताई और कहा कि पिछले 15 सालों में ऐसी घटना कभी नहीं हुई। मालिक के मुताबिक, 'हमने माफी मांगी और दुल्हन के परिवार की तरफ से दिए पैसों को लौटा दिए। इस दुर्घटना के बाद वेडिंग सेरेमनी पूरी हुई।'