नई दिल्ली। दुपट्टे से पत्नी का गला घोंटकर उसकी हत्या करने वाले आरोपी पति को पुलिस ने दो हफ्ते बाद आखिरकार गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस पूछताछ में आरोपी ने बताया कि, दोनों के बीच अक्सर झगड़े होते रहते थे। वह रोज-रोज के झगड़ों से तंग आ गया था, इसलिए दुपट्टे से उसने पत्नी का गला घोंट दिया और उसकी मौत के बाद घर में ताला लगाकर फरार हो गया।

झगड़े के बाद सोने चली गई थी पत्नी

पुलिस ने बताया कि, धर्मेंद्र (23) दैनिक मजदूरी करता है। वह अपनी पत्नी करण कौर (18) के साथ नाथूपुर गांव स्थित डीएलएफ फेज -3 में किराए के मकान में रहता था। 28 जनवरी की रात पत्नी और उसके बीच किसी बात को लेकर झगड़ा हुआ था। झगड़े के बाद पत्नी सोने चली गई, लेकिन धर्मेंद्र जागता रहा। पत्नी को गहरी नींद लगते ही धर्मेंद्र ने दुपट्टे से पत्नी का गला घोंट दिया। पत्नी की मौत के बाद धर्मेंद्र घर में ताला लगाकर फरार हो गया था।

मकान मालिक ने दी पुलिस को सूचना

धर्मेंद्र के फरार हो जाने के लगभग चार दिन बाद मकान मालिक दिनेश सफाई करवाने के लिए उनके घर पहुंचा था। घर के अंदर से अजीब सी बदबू आने पर दिनेश ने खिड़की से झांक कर देखा। घर के अंदर उसे करण कौर मृत अवस्था में दिखाई दी। दिनेश ने तत्काल इसकी सूचना संबंधित पुलिस थाने में दर्ज कराई। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा तोड़कर करण कौर की बॉडी को पीएम के लिए परिजनों को घटना की जानकारी दे दी।

मृतिका के परिजनों ने लगाया पति पर आरोप

पुलिस से मिली सूचना के बाद मृतिका के परिजन उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ से दिल्ली पहुंचे। मृतिका के पिता भगवान सिंह ने बताया कि, मई 2018 में करण और धर्मेंद्र की शादी हुई थी। उन्होंने आरोप लगाया कि, दामाद धर्मेंद्र अक्सर उनकी बेटी के साथ मारपीट करता था। मृतिका के पिता से मिली जानकारी के आधार पर पुलिस ने फरार धर्मेंद्र के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी थी।

आरोपी बार-बार बदल रहा था लोकेशन

क्राइम ब्रांच इस पूरे मामले की जांच कर रही है। सेक्टर 40 के क्राइम ब्रांच प्रभारी अमित कुमार ने कहा कि, पत्नी की हत्या के बाद आरोपी धर्मेंद्र कुछ दिन अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के घर पर रहा। वह बार-बार अपनी लोकेशन बदल रहा था, ताकि पुलिस उस तक नहीं पहुंच पाए। उसने दिल्ली और नोएडा के बुरारी, सुल्तानपुरी सहित आस-पास के इलाकों में फरारी काटी। इस दौरान पुलिस को सूचना मिली कि, धर्मेंद्र अपने एक दोस्त से मिलने के लिए गुरुग्राम आया है। मुखबिर से मिली सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने धर्मेंद्र को हिरासत में ले लिया। पुलिस ने धर्मेंद्र से सख्ती से पूछताछ की, जिसमें उसने पत्नी के साथ मारपीट और हत्या का जुर्म कबूल कर लिया।