नई दिल्ली। सीलिंग के विरोध में मंगलवार को दिल्ली में महाबंद जारी है और इस दौरान व्यापारियों ने सड़क पर उतरकर इस कार्रवाई का विरोध किया है। कई इलाकों में व्यापारियों ने पुतले जलाएं हैं वहीं शव यात्राएं भी निकाली गई हैं।

कंफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) द्वारा घोषित इस बंद को दिल्ली के 2500 से अधिक व्यापारिक संगठनों का साथ मिल रहा है। माना जा रहा है कि सात लाख से ज्यादा व्यापारी अपना कारोबार बंद रखकर सीलिंग के खिलाफ विरोध जताएंगे।

कैट के राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीण खंडेलवाल ने बताया कि थोक व खुदरा बाजार भी बंद में शामिल हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि सीलिंग के खिलाफ करोलबाग में आर्य समाज रोड पर व्यापारियों की महापंचायत भी होगी। इसमें आगे की रणनीति पर विचार-विमर्श होगा। साथ ही दिल्ली के अन्य बाजारों में धरना-प्रदर्शन भी होगा।

उन्होंने केंद्र सरकार से एक बार फिर दिल्ली को सीलिंग से बचाने के लिए संसद के इस सत्र में विधेयक पारित करने की मांग की। वहीं, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से 16 मार्च से शुरू हो रहे विधानसभा सत्र के पहले दिन सीलिंग पर रोक लगाने के लिए बिल पारित कर मंजूरी के लिए उसे केंद्र सरकार के पास भेजने की मांग की है। साथ ही 351 सड़कों को तुरंत अधिसूचित करने का भी आग्रह किया है।

बाजारों में निकलेगी सीलिंग की शवयात्रा

बाजार बंद के दौरान मंगलवार को व्यापारी 100 से अधिक बाजारों में सीलिंग की शवयात्रा निकालेंगे। चैंबर ऑफ ट्रेड एंड इंडस्ट्री (सीटीआई) के संयोजक बृजेश गोयल ने कहा कि सबसे बड़ी शवयात्रा कश्मीरी गेट से निगम बोध घाट तक निकलेगी। जहां सीलिंग के शव का विधिविधानपूर्वक अंतिम संस्कार किया जाएगा।

इन बाजारों में दिख सकता है बंद का असर

चांदनी चौक, सदर बाजार, भगीरथ पैलेस, खारी बावली, नया बाजार, चावड़ी बाजार, नई सड़क, कश्मीरी गेट, श्रद्धानंद बाजार, लाहौरी गेट, दरियागंज, कनॉट प्लेस, खान मार्केट, करोलबाग, पहाड़गंज, रोहिणी, मॉडल टाउन, शालीमारबाग, पीतमपुरा, पंजाबी बाग, आजादपुर, राजौरी गार्डन, उत्तम नगर, जेल रोड, नारायणा, कीर्ति नगर, द्वारका, जनकपुरी, उत्तम नगर, अमर कॉलोनी, लाजपत नगर, ग्रेटर कैलाश, साउथ एक्सटेंशन, डिफेंस कॉलोनी, हौजखास, ग्रीन पार्क, युसूफ सराय, सरोजिनी नगर, तुगलकाबाद, कालकाजी, विकास मार्ग, लक्ष्मी नगर, प्रीत विहार, मयूर विहार, शाहदरा, कृष्णा नगर, गांधी नगर, दिलशाद गार्डन, लोनी रोड समेत अन्य बाजारों में बंद का असर दिखाई दे सकता है।

जल्द निकलेगा सीलिंग का हलः राजनाथ सिंह

कैट के राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल के नेतृत्व में सोमवार को व्यापारियों के प्रतिनिधिमंडल ने केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की। खंडेलवाल ने कहा कि गृहमंत्री ने उनकी बातें गंभीरता से सुनीं और सीलिंग को लेकर चिंता प्रकट की। गृहमंत्री ने कहा कि जल्द ही इस समस्या का स्थायी हल निकाल लिया जाएगा। उन्होंने इस संबंध में उपराज्यपाल से मिलने की सलाह दी और स्वयं भी उपराज्यपाल से बातचीत की।