सोलन। लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण से पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को हिमाचल प्रदेश के सोलन में रैली को संबोधित किया। राहुल ने नोटबंदी को लेकर मोदी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया पर समूचे देश की अर्थव्यवस्था के प्रबंधन का जिम्मा है। इस संस्थान में कार्यरत लोगों के पास ज्ञान है, मगर वहां के विशेषज्ञों से नहीं पूछा गया और सीधे नोटबंदी कर दी। नोटबंदी के दौरान प्रधानमंत्री ने अपने मंत्रियों को रेसकोर्स में ताले में बंद कर दिया था। राहुल के मुताबिक, उन्हें यह जानकारी एसपीजी वालों ने दी है, जो उनकी भी सुरक्षा में तैनात रहते हैं।

राहुल ने कहा कि अरुण जेटली, सुषमा स्वराज, आदि के पास ज्ञान है। इन लोगों को भी दरकिनार कर दिया गया। इन लोगों के पास अनुभव है। मैं इनसे गले मिलता हूं, लेकिन मोदी उनसे भी सलाह नहीं लेते। अपने मन से फैसले करते हैं।

राहुल गांधी के भाषण का ट्वीट सोशल माडिया में जमकर वायरल हुआ। कई लोगों ने राहुल गांधी का विरोध भी किया था। राहुल गांधी के लिए लिखा गया कि उन्हें अवकाश की आवश्यकता है। गौरतलब है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अपने भाषणों में यह कहते रहे हैं कि केंद्र सरकार ने नोटबंदी कर गरीबों पर ही वार किया है।