नई दिल्ली। चुनाव आयोग ने समाजवादी पार्टी के नेता और रामपुर से सपा प्रत्याशी आजम खान पर 72 घंटों का चुनाव प्रचार न करने का प्रतिबंध लगा दिया है। उनके ऊपर यह प्रतिबंध मंगलवार को सुबह 10 बजे से लागू होगा। चुनाव आयोग ने यह फैसला आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में लिया है।

गौरतलब है आजम खान ने एक चुनावी सभा के दौरान रामपुर से भाजपा प्रत्याशी जयाप्रदा पर अभद्र टिप्पणी की थी। इसकी शिकायत चुनाव आयोग को की गई थी और आजम खान के इस बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया भी आई थी।

इसी तरह केंद्रीय मंत्री और सुल्तानपुर से भाजपा उम्मीदवार मेनका गांधी पर भी चुनाव आयोग ने कार्रवाई करते हुए 48 घंटों का प्रतिबंध लगा दिया गया है। आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में लगाया गया यह प्रतिबंध मंगलवार को सुबह 10 बजे से लागू होगा।

वहीं बसपा प्रमुख मायावती ने अपने ऊपर लगाए गए प्रतिबंधों को लेकर चुनाव आयोग की आलोचना की है और कहा है कि आयोग का यह फैसला एकतरफा है और यह अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का हनन है। यह दिन चुनाव आयोग के इतिहास का काला दिवस रहेगा।