नई दिल्ली। अधिकांश सर्वे एजेंसियों के पोल के अनुसार एनडीए को कई राज्‍यों में बढ़त मिलती दिखाई दे रही है। एबीपी-निलसन, Times Now VMR, एनडीटीवी पोल ऑफ पोल्‍स, आज तक-एक्सिस माय इंडिया, एबीपी न्‍यूज, न्यूज 24-चाणक्य आदि एजेंसियों का एग्जिट पोल सामने आ चुका है, जो बताते हैं कि बीजेपी और घटक दलों को अच्‍छी खासी सीटें मिल रही हैं और देश में एक बार फिर से मोदी सरकार बनने के आसार हैं। पढ़ें डिटेल।

पढ़ें खास : Exit Polls की बड़ी बातें, मोदी का जलवा, राहुल-प्रियंका बेअसर, बुआ-बबुआ के चेहरे खिले, ममता कमजोर

- यूपी में रिपब्लिक C Voter द्वारा किए गए सर्वे में भाजपा को 38 सीटें और बसपा-सपा के गठबंधन को 40 सीटें मिल रही हैं। कांग्रेस 2 सीटों पर सिमट रही है। वहीं ABP न्यूज- निलसन के सर्वे में भाजपा को 80 सीटों में से सिर्फ 22 सीटें ही मिलती नजर आ रही हैं। सर्वे में बसपा सपा के गठबंधन को 56 सीटें और कांग्रेस को 2 सीटें मिल रही हैं। सुवर्णा न्यूज 24x7 के अनुसार भाजपा को 51 सीटें और बसपा सपा गठबंधन को 26 सीटें मिल रही हैं। कांग्रेस को 3 सीट मिल रही हैं।

- लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण की वोटिंग खत्म होते ही रविवार शाम 6 बजे एग्जिट पोल जारी कर दिए गए हैं। Times Now VMR के मुताबिक राजस्थान में एनडीए का एक बार फिर जलवा चलता दिखाई दे रहा है। यहां 40 सीटों में से 30 सीटें एनडीए और 10 सीटें यूपीए को मिलती नजर आ रही हैं। राजस्थान में लोकसभा की 25 सीटे हैं और भाजपा इस बार भी क्लीन स्‍वीप करती नजर आ रही है। इंडिया टुडे एक्सिस के मुताबिक, भाजपा को 23 से 25 सीटें मिल सकती हैं। 2018 के विधानसभा चुनावों में जीत के बाद कांग्रेस को बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद थी। कांग्रेस ने राजस्थान पर खास जोर ही दिया था।

- ए‍ग्जिट पोल नतीजों के अनुसार मध्‍यप्रदेश में बीजेपी को 26 से 28 सीटें मिल रही हैं जबकि कांग्रेस को एक से तीन सीटें मिल रही हैं। आज तक के मुताबिक बीजेपी मध्‍यप्रदेश में क्‍लीन स्‍वीप कर रही है। एनडीटीवी पोल ऑफ पोल्‍स के अनुसार मध्‍यप्रदेश में भाजपा को 24 और कांग्रेस को 5 सीटें मिलने का अनुमान लगाया गया है।

- पश्चिम बंगाल की बात करें तो टाइम्स नाउ-वीएमआर के मुताबिक, 42 सीटों में से टीएमसी के खाते में 28 सीट जाती दिख रही है। ज्यादातर पोल के मुताबिक, एनडीए को बहुमत मिल रहा है और केंद्र में एक बार फिर भाजपा की सरकार बनती नजर आ रही है।

- टाइम्स नाउ के मुताबिक, महाराष्ट्र की 48 में से 38 सीटें एनडीए के खाते में जाती नजर रही है। कांग्रेस और राकांपा के खाते में 10 सीटें जा सकती हैं। कांग्रेस और राकांपा के खाते में 10 सीटें जा सकती हैं। बता दें, लोकसभा सीटों के लिहाज से महाराष्ट्र देश का दूसरा बड़ा राज्य है। यहां की 48 सीटों पर इस बार भी भाजपा+शिवसेना और कांग्रेस+राकांपा के बीच मुकाबला रहा।

- लोकसभा चुनाव 2019 के आखिरी चरण की वोटिंग रविवार को हो गई है। विभिन्न एजेंसिया अपने एग्जिट पोल जारी कर रही हैं। Times Now के मुताबिक गुजरात में 26 सीटों में से भाजपा के खाते में 23 सीटें जा रही हैं। यहां 3 सीटों का पार्टी को नुकसान हो रहा है। गुजरात में लोकसभा की 26 सीटें हैं।

- लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण की वोटिंग खत्म होते ही रविवार शाम 6 बजे एग्जिट पोल जारी कर दिए गए हैं। Times Now के मुताबिक बिहार में एनडीए का एक बार फिर जलवा चलता दिखाई दे रहा है। यहां 40 सीटों में से 30 सीटें एनडीए और 10 सीटें यूपीए को मिलती नजर आ रही हैं।

- एग्जिट पोल्स के मुताबिक छत्‍तीसगढ़ में भाजपा को ज्यादा सीटें मिलती दिख रही है। आज तक-एक्सिस माय इंडिया के ए‍ग्जिट पोल्स के मुताबिक छत्तीसगढ़ की 11 सीटों में से भाजपा को 7 से 8 सीटें मिल रही है, जबकि कांग्रेस को 3 से 4 सीटें मिल रही हैं। वहीं अन्य को कोई सीट नहीं मिल रही। इसी प्रकार न्यूज 24-चाणक्य के एग्जिट पोल्स में भाजपा को 7 से 11 सीटें और कांग्रेस को 0 से 4 सीटें मिलती नजर आ रही हैं। इसके अलावा टाइम्स नाउ-वीएमआर एजेंसी के एग्जिट पोल के मुताबिक भाजपा को छत्तीसगढ़ में 7 और कांग्रेस को 4 सीटें मिल रही हैं।

- एबीपी न्यूज के मुताबिक उत्तराखंड में भाजपा को 4 ओक कांग्रेस को 1 सीट मिलने का अनुमान है।

बिहार में लोकसभा की 40 सीटे हैं जहां इस बार महागठबंधन (RJD, कांग्रेस व अन्य) और एनडीए (BJP, JDU और LJP) के बीच हुआ।

- देश की दिल्ली राजधानी में इस बार त्रिकोणीय मुकाबला था। NDTV पोल ऑफ पोल्स के मुताबिक दिल्ली की 7 सीटों पर में से भाजपा को 5 सीटें और कांग्रेस को 2 सीटें मिलती दिखाई दे रही हैं। दिल्ली में लोकसभा की 7 सीटे हैं, जिन पर इस बार त्रिकोणीय मुकाबला हुआ।

- एनडीटीवी पोल्स ऑफ पोल के मुताबिक तमिलनाडु में एडीआईएमके को 12 सीटेंं, डीएमके को 25 सीटें और अन्य को 1 सीट मिल रही है। कर्नाटक में भाजपा 18 सीटें लेकर सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभर रही है, वहीं कांग्रेस को 9 सीटें मिल रही हैं। तेलंगाना में टीआरएस को 12, बीजेपी को 1 सीट मिलती नजर आ रही है। आंध्रप्रदेश में टीडीपी को 8 और YSRC को 17 सीटें मिल रही हैं।

- एनडीटीवी पोल आफ पोल्‍स के मुताबिक आसाम में बीजेपी को 9, कांग्रेस को 4 और अन्‍य को एक सीटें मिलने का अनुमान है।

- एनडीटीवी पोल आफ पोल्‍स के मुताबिक उड़ीसा में बीजेडी को 10, बीजेपी 10 और अन्‍य को एक सीट मिलने का अनुमान है।

इससे एक हद तक अंदाजा लगाया जा सकता है कि इस बार किसकी सरकार बनने के आसार हैं। हालांकि सभी 542 लोकसभा सीटों के लिए नतीजे 23 मई, गुरुवार को आएंगे।

यह भी पढ़ें : Madhya Pradesh Elections Exit Poll 2019 Live Update : मतदान खत्‍म होने के बाद देखें एग्जिट पोल अपडेट्स

जो प्रमुख एजेंसियां एग्जिट पोल जारी करेंगी, उनमें शामिल हैं News18-IPSOS, इंडिया टुडे-Axis, टाइम्स नाऊ-CNX, NewsX-Neta, रिब्लिक-जन की बात, रिपब्लिक-CVoter, ABP-CSDS और Today's चाणक्य। बता दें, इस बार लोकसभा चुनाव 7 चरणों में हुआ है। पहले चरण की वोटिंग 11 अप्रैल को हुई थी।

मोदी सरकार दोबारा जनता का आशीर्वाद मांग रही है, वहीं विपक्षी दल बदलाव की अपील करते नजर आए हैं। भाजपा जहां 300 से ज्यादा सीटों का दावा कर रही है, वहीं कांग्रेस व अन्य दल मान रहे हैं कि इस बार एनडीए को बहुमत हासिल नहीं होगा। इन चुनावों में राष्ट्रवाद सबसे बड़ा मुद्दा रहा और इससे जुड़े कई विवादित बयान भी सामने आए।

यह भी पढ़ें : Bihar Exit Poll Live Updates: बिहार का पहला एक्जिट पोल थोड़ी देर में

ऐसा रहा था 2014 का परिणाम: 2014 में भाजपा ने मोदी को चेहरा बनाकर चुनाव लड़ा था और उसे जबरदस्त सफलता मिली थी। 543 सीटों के लिए बहुमत का आंकड़ा 272 है। अकेली भाजपा को 282 सीटें मिली थीं और एनडीए का आंकड़ा 336 पर जा पहुंचा था। कांग्रेस 44 सीटों पर सिमट गई थी और यूपीए को सिर्फ 60 सीटों से संतोष करना पड़ा था।

यह भी पढ़ें : Chhattisgarh Elections Exit Polls 2019 Live : मतदान खत्म होने के बाद देखें एक्जिट पोल अपडेट

लोकसभा चुनाव 2019 की खास बातें: जिन कारणों से इस बार का लोकसभा चुनाव याद रखा जाएगा, उसमें सबसे ऊपर है नेताओं के बयानों का गिरता स्तर। खासतौर पर देश के प्रधानमंत्री के खिलाफ जिस तरह के शब्दों का इस्तेमाल किया गया, वह लोकतंत्र के लिए शर्मसार करने वाला रहा। हालांकि चुनाव आयोग ने भी इस बार जबरदस्त काम किया। जिस तरह ताबड़तोड़ कार्रवाई की गई और अनाप-शनाप बयान देने वाले नेताओं को प्रचार पर पाबंदी लगाई गई, वह अभूतपूर्व रही।

यह भी पढ़ें : Punjab Exit Polls Live Upadates: थोड़ी देर में आएगा पंजाब का पहला एग्जिट पोल

मध्यप्रदेश की भोपाल सीट पर पूरे देश की नजर रही। यहां कांग्रेस के दिग्विजय सिंह के खिलाफ भाजपा ने साध्वी प्रज्ञा सिंह को उतारा। यहां तक कहा गया कि यह देश के इतिहास का सबसे ज्यादा पोलराइज इलेक्शन रहा। कांग्रेस की ओर से प्रियंका गांधी की राजनीति में आधिकारिक एंट्री इसी चुनाव में हुई। वहीं बंगाल की हिंसा भी देशभर में चर्चा में रही।